चंद्रयान 2 के बाद कार्टोसैट-3 सैटेलाइट लॉन्च

 27 Nov 2019  125

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
चंद्रयान-2 के बाद इसरो ने श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से कार्टोसैट-3 सैटेलाइट लॉन्च किया. जो जमीन से 509 किलोमीटर ऊपर चक्कर लगाएगा. इस सेटेलाइट को आसमान में भारत की आंख माना जाता है इसीलिए ये सेना के साथ-साथ सुरक्षा एजेंसियों के लिए बहुत मददगार साबित होगा. बता दें कि चंद्रयान 2 के बाद यह इसरो का सबसे बड़ा मिशन है. कार्टोसैट-3 को पहले 25 नवंबर को लॉन्च किया जाना था, लेकिन बाद में इसकी तारीख बदल दी गई और इसे 27 नवंबर लॉन्च किया गया. बता दें कि कार्टोसैट-3 उपग्रह कार्टोसैट सीरीज का नौवां उपग्रह है जो अंतरिक्ष से भारत की सरहदों की निगरानी के लिए प्रक्षेपित किया गया है. सीमा निगरानी के लिए इसरो कार्टोसैट-3 के बाद दो और उपग्रह रीसैट-2 बीआर1 और रीसैट 2 बीआर 2 को पीएसएलवी  सी-48 और पीएसएलवी सी-49 की मदद से श्रीहरिकोटा से अगले महीने लॉन्च किया जाएगा. बता दें कि कार्टोसेट-3 अंतरिक्ष में 509 किलोमीटर दूर 97.5 डिग्री के झुकाव के साथ कक्षा में स्थापित किया जाएगा.