पेट्रोलियम के बढ़ते भाव से जनता पर पड़ेगा डबल बोझ

 09 Oct 2018  24
जितेंद्र मिश्रा/ in24न्यूज़/मुंबई।  
देश में लगातार बढ़ते ईंधन की कीमतों को लेकर जहां आम जनता परेशान है वहीँ महाराष्ट्र की जनता पर दोहरा बोझ पड़ने वाला है. मुंबई सहित पूरे राज्य की लाइफलाइन कही जाने वाली टैक्सी और रिक्शा चालकों ने सीएनजी की बढ़ती कीमतों को देखते हुये किराये में बढ़ोत्तरी करने की मांग की है. बीते सोमवार के दिन विभिन्न यूनियन के पदाधिकारियों ने राज्य के मुख्य सचिव से मुलाकात करके ज्ञापन सौंपा। हाल ही में महानगर गैस ने सीएनजी की कीमतों में 2 रुपये 66 पैसों की वृद्धि की है जिसके कारण सीएनजी की कीमत 50 रुपये के करीब पहुंच गयी है. इस बढ़ोत्तरी के कारण ऑटो -टैक्सी यूनियन ने किराये में 4-5 रुपये बढ़ोतरी की मांग की है। गौरतलब है कि वर्तमान में ऑटो के लिये  न्यूनतम किराया 18 रुपये और टैक्सी के लिए 22 रुपये यात्रियों को देना पड़ता है। वहीँ यूनियन की मांग पूरी होने के बाद ऑटो के लिए 22 रुपये और टैक्सी के लिए 26 रुपये देना पड़ेगा। पिछले सप्ताह स्वाभिमान टैक्सी-रिक्शा यूनियन ने के अध्यक्ष के. के. तिवारी ने परिवहन आयुक्त से मुलाकात करके किराये में वृद्धि करने की मांग की थी। जिस पर परिवहन आयुक्त ने जल्द  फैसला लेने का आश्वासन दिया है। बता दें कि ऑटो और टैक्सी की किराये में बढ़ोत्तरी करने लिये राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) की मंजूरी लेना आवश्यक होता है। इसके साथ ही वाहन की मरम्मत हेतु साल में लगने वाले  खर्च, टैक्स, बीमा, ईंधन की कीमत और वाहन की कीमत भी शामिल है।