किसानों और मध्यम वर्ग के लिए खुल सकता है बजट का पिटारा

 31 Jan 2019  197

संवाददाता/in24 न्यूज़.

किसानों और मध्यम वर्ग के लिए खुल सकता है बजट का पिटारा, कुछ इसी तयारी के साथ आनेवाला बजट लोकलुभावन हो सकता है. ऐसी उम्मीद की जा रही है. संसद का बजट सत्र 31 जनवरी से राष्ट्रपति के अभिभाषण के साथ शुरू हो गया है। सत्र 13 फरवरी तक चलेगा। मौजूदा एनडीए सरकार का ये आखिरी बजट है। वित्त मंत्री पीयूष गोयल शुक्रवार को अंतरिम बजट पेश करेंगे। इसके बाद देश में आम चुनाव होने हैं। ऐसे में इस अंतरिम बजट से उम्मीद की जा रही है कि सरकार इसमें समाज के विभिन्न वर्गो के कल्याण से जुड़ी अनेक उपायों की घोषणा कर सकती है। जिसमें खासतौर से मध्यम वर्ग और खेती से जुड़े लोगों के लिए कुछ घोषणाएं हो सकती हैं।
ये मोदी सरकार का आम चुनाव से पहले आखिरी बजट है। ऐसे में सरकार इसमें हर वर्ग को ध्यान में रखते हुए फैसले ले सकती है।वित्तमंत्री की ओर से कुछ ऐसी घोषणाएं हो सकती हैं, जिनको लेकर सरकार चुनाव में जा सके। जानकारी के मुताबिक, इस बजट में सरकार मध्यम वर्ग को टैक्स से राहत दे सकती है। तो वहीं बीते काफी समय से लगातार आंदोलन कर रहे किसानों के लिए राहत का ऐलान हो सकता है।
किसानों के लिए एक पैकेज का ऐलान सरकार कर सकती है, जिसमें एमएसपी के सीधे खाते में पहुंचाने और फसल कर्ज को लेकर घोषणाएं की जा सकती है। हाल के दिनों में जहां किसानों ने कई मौकों पर सरकार के खिलाफ आंदोलन किया है तो वहीं मध्यम वर्ग लगातार टैक्स बढ़ाने की बात करता रहा है।