पांच लाख तक की आय पर अब कोई टैक्स नहीं

 01 Feb 2019  25

संवाददाता/in24 न्यूज़. 

मोदी सरकार ने अंतरिम बजट के तहत वेतनभोगी वर्ग को बड़ी राहत प्रदान करते हुए आज आयकर दरों में बड़ा बदलाव करने की घोषणा की। वित्त मंत्री ने कहा कि अब पांच लाख तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को 2019-20 का बजट पेश करते हुए इस आशय की घोषणा की। उन्होंने कहा कि डेढ़ लाख रुपए तक की बचत पर भी कोई कर नहीं लगेगा। इस तरह कुल छूट साढ़े 6 लाख रुपए तक की आय पर मिल गयी। इसके अलावा उन्होंने स्टैंडर्ड डिडक्शन 40 हजार रुपए से बढ़ाकर 50 हजार रुपए करने की भी घोषणा की। इसके अलावा एफडी के ब्याज पर 40 हजार रुपए तक के ब्याज पर कोई टैक्स नहीं लगेगा। अब तक 10 हजार रुपए के ब्याज पर कोई कर नहीं लगता था। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने लोक सभा में अंतरिम बजट पेश करते हुए कहा कि इससे मध्यम वर्ग को बड़ी राहत मिलेगी।गौरतलब है कि हाल में भाजपा को मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनावों में पराजय झेलना पड़ा था। माउम्मीद की जा रही है कि भाजपा की हार में किसानों और ग्रामीण मतदाताओं की नाराजगी के अलावा शहरी क्षेत्रों में मध्यम वर्ग की नाराजगी भी प्रमुख कारण थी। ऐसे में लगातार इस तरह की चर्चा चल रही थी कि सरकार बजट में वेतनभोगी वर्ग को राहत के लिए कुछ बड़ी घोषणा कर सकती है।