उन्नाव गैंगरेप केस में कोर्ट ने फैसला रखा सुरक्षित

 12 Apr 2018  35

संवाददाता/in24 न्यूज़

उन्नाव रेप केस में गुरुवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की तरफ से राज्य सरकार को यह पूछा गया कि वो आरोपी बीजेपी विधायक को गिरफ्तार करेगी या नहीं? इसके जबाव में राज्य सरकार ने कहा कि आरोपी विधायक के खिलाफ पीड़ित के पास सबूत ही नहीं है लेकिन जैसे ही सबूत मिलता है, तो आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार किया जाएगा।

 

इसके बाद इलाबाहाद हाईकोर्ट ने फैसले को सुरक्षित रखा है और इस पर अब फैसला कोर्ट की तरफ से शुक्रवार की दोपहर 2 बजे सुनाया जाएगा। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव गैंगरेप मामले पर दायर की गई याचिका को सुप्रीम कोर्ट में स्वीकार किये जाने के बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस मामले पर स्वत: संज्ञान लिया। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उन्नाव गैंगरेप मामले पर स्वत: संज्ञान लेते हुए 12 अप्रैल की सुनवाई की तारीख निर्धारित की थी। कोर्ट ने इस मामले में एक एमिकस क्यूरी भी नियुक्त किया है।

 

आपको बता दें की इंसाफ की मांग को लेकर पीड़ित लखनऊ में मुख्यमंत्री योगी के पास गई थी और उनके आवास पर आत्मदाह की कोशिश की थी। पीड़ित लड़की का कहना है कि विधायक कुलदीप सेंगर ने हमारे साथ गलत काम किया। जब विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने हमारे साथ बलात्कार किया था, शशि सिंह हमको उनके घर लेकर गए थे।

 

जब हमारे साथ वह गलत काम कर रहे थे तब हमने इसका विरोध किया तो धमकी देने लगे कि अगर किसी को बताओगी तो पूरे परिवार को मरवा के फेंकवा देंगे।