ठगों के जाल में फशे 63 कार मालिक,पुलिस ने किया दो ठगों को गिरफ्तार

 11 Aug 2019  16

संवाददाता/in24 न्यूज़। 

सफ़ेद पोश अपराधियों को पस्त करने के लिए सरकार कितनी भी गंभीर क्यों न हो जाए.पुलिस प्रशासन कितनी ही हाईटेक क्यों न हो जाये गुनहगार अपने नापाक मंसूबों को अंजाम देकर ही दम लेते हैं.मामला है नवी मुंबई के पनवेल का,  जहाँ पनवेल शहर पुलिस ने दो ऐसे आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिन्हे ठगी की आपराधिक गतिविधियों में महारत हासिल है.ये नटवरलाल इतने शातिर हैं कि इनकी तीक्ष बुद्धि से कई लोग इनकी ठगी के शिकार बने। पुलिस ने इनके पास से एक दो नहीं बल्कि अब तक 63 कारे जब्त किया है, जिनकी बाजार में कीमत लगभग 2 करोड़ 83 लाख 80 हजार रुपये है.इन वाहनों के मालिक को मोती कमाई का झांसा दिया गया था जिसके लिए बाकायदा अग्रीमेंट कर उन्हें 30 से 35 हजार रुपये प्रति माह देने की बात की गई थी लेकिन कमाई की बात तो दूर की है यहां पीड़ितों का मूलधन भी स्वाहा हो गया.जिसके बाद कुछ पीड़ित व्यक्तियों ने अपने आप को ठगे जाने की शिकायत पनवेल पुलिस थाने में दर्ज कराई।पनवेल पुलिस ने जब जांच की शुरुआत की तो उन्हें भी इस बात का आभाष नही था कि यह ठगी का मामला इतना लंबा चौड़ा होगा जिसकी फेहरिस्त बनाने में पुलिस को पसीने छूट जायेंगे।महज एक सप्ताह की जांच में पुलिस ने कुल 63 गाड़ियां जब्त की है वो भी सारे एक से एक आलिशान इन गाड़ियों को बड़ी बड़ी कंपनियों में कॉन्ट्रैक्ट पर रखवाने के लिए गाड़ियों के मालिक से बाकायदा एग्रीमेंट कर नटवरलालों ने इन्हे गिरवी रख दिया था और गिरवी के बदले उठाई गयी रकम से आरोपी नटवरलाल जिंदगी का मजा लूट रहे थे.फिलहाल ये जा पहुंचे है हवालात जहां पुलिस कस्टडी के दौरान पुलिस इनसे लगातार पूछताछ कर रही है.यह अलग बात है कि इनके मौज मस्ती के दिन लद गये अब ये काल कोठरी में बैठ कर अपने बीते सुनहरे दिनों को याद कर रहे है.इन आरोपियों के देख आप इस बात का अंदाजा भी नहीं लगा सकते कि इन ठगों ने एक दो नहीं बल्कि 63 गाड़ियों को उनके मालिक की बिना जानकारी में गिरवी रख दिया होगा।पुलिस को अंदेशा है कि अब तक जब्त की गयी 63 गाड़ियों की संख्या सैकड़ों को पार जा सकती है  ...