पाक उच्चायोग के दो अधिकारी जासूसी करते पकड़े गए

 01 Jun 2020  36

संवाददाता/in24 न्यूज़.
पाक उच्चायोग के दो अधिकारी को जासूसी के संदर्भ में पकड़ा गया है. केंद्र ने रविवार को जानकारी दी कि नई दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग के दो अधिकारियों को जासूसी करते हुए पकड़ा गया है. दोनों अधिकारियों को 24 घंटे के भीतर भारत छोड़ने का आदेश दिया गया है. विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि नई दिल्ली में पाकिस्तान के उच्चायोग के दो अधिकारियों को आज इंडियन लॉ एन्फोर्स्मेंट अथॉरिटीज द्वारा जासूसी गतिविधियों में लिप्त होने के कारण गिरफ्तार किया गया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इन अधिकारियों निष्कासन की निंदा की है और कहा है कि दोनों अधिकारियों के खिलाफ झूठे आरोप हैं. पाक मंत्रालय ने भारत पर अधिकारियों की नजरबंदी और टॉर्चर करने का भी आरोप लगाया है. एक बयान में पाक विदेश मंत्रालय ने कहा कि हम अधिकारियों के हिरासत और टॉर्चर किये जाने के साथ-साथ झूठे आरोपों की निंदा करते हैं. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने दावा किया कि भारतीय कार्रवाई कूटनीतिक संबंधों पर वियना कन्वेंशन का स्पष्ट उल्लंघन है. मीडिया के अनुसार इन दोनों अधिकारियों की पहचान आबिद हुसैन और मुहम्मद ताहिर के रूप में हुई है. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इन्हे करोल बाग इलाके से जासूसी करते पकड़ा है, ये दोनों पाक उच्चायोग के वीजा सेक्शन में काम करते हैं. भारतीय विदेश मंत्रालय के अनुसार दोनों को पर्सन नॉन-ग्रेटा (अवांछित व्यक्ति) घोषित कर दिया गया है, जिसके बाद दोनों को 24 घंटे के भीतर भारत छोड़ना होगा. आबिद हुसैन के पास से दिल्ली के गीता कॉलोनी के नासिर गोतम नाम का आधार कार्ड बरामद हुआ है. दोनों खुद को भारतीय बताते थे. इससे पहले भी 2016 में पाकिस्तान के हाई कमिशन में काम करने वाले महमूद अख्तर को अवैध तरीके से संवेदनशील दस्तावेज हासिल करने के आरोप में पकड़ा गया था.