दो नाबालिग बहनों ने आत्महत्या की

 30 Jun 2020  26

संवाददाता/in24 न्यूज़.
आजकल के बच्चे बहुत ज़्यादा संवेदनशील होते हैं. छोटी-छोटी बातों से भी आहत हो जाते हैं. एक ऐसा ही मामला है दो नाबालिग चचेरी बहनों का जिन्होंने आत्महत्या का सहारा लिया और अपनी ज़िंदगी समाप्त कर ली. जालोर के आहोर थाना क्षेत्र के माधोपुरा गांव में सोमवार रात घर के एक ही हॉल में दो अलग-अलग हुक से लगे फंदे से दो बहनों के झूलते शव मिले। मृतक दोनों बहनें चचेरी है। पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद दोनों के शव परिजनों को सुपुर्द किए हैं। प्रथमदृष्टया आत्महत्या मानते हुए जांच शुरू की गई है। पुलिस के अनुसार माधोपुरा के हनुमान चौक स्थित रहवासी मकान में 16 वर्षीय किस्मत बानू पुत्री इकबाल खान तथा 17 वर्षीय बिलकेश बानूपुत्री शेरू खां के घर में लगे झूले के हुक से लगे फंदे से झूलते शव मिले हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर परिजनों की मौजूदगी में दोनों बालिकाओं के शव उतरवाकर आहोर अस्पताल की मोर्चरी में पहुंचाए। शवों के पोस्टमार्टम के दौरान उनके पास से सुसाइड नोट भी मिला है। सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस ने मामले की जांच शुरू की है। इस मामले में मृतका बिलकेश के नाना एवं किस्मत बानू के दादा मेहराब खां पुत्र गनी खां ने पुलिस को रिपोर्ट दी है। दोनों नाबालिग बहनों के शवों का पोस्टमार्टम कराने के बाद शव परिजनों को सौंप दिए गए। अभी तक पुलिस ने यह खुलासा नहीं किया कि सुसाइड नोट में क्या लिखा है। डीएसपी जयदेव सिहाग ने बताया कि माधोपुरा में दो नाबालिग बालिकाओं के शव फंदे से झूलते मिले। मृतका के पास सुसाइड नोट भी मिला हैं, जिसके आधार पर जांच कर रहे हैं। जांच के बाद ही सच का पता चल पायेगा.