आपसी रंजिश के चलते कांग्रेस नगरसेवक की हत्या !

 15 Feb 2017  474
ब्यूरो रिपोर्ट / in24 न्यूज़
मुंबई से सटे भिवंडी इलाके के कांग्रेस कॉरपोरेटर की बड़ी निर्ममता से हत्या कर दी गयी। कथित हत्याकांड के बाद पूरे शहर में सनसनी फैल गई है। कॉरपोरेटर का नाम मनोज म्हात्रे है जिनकी हत्या सूत्रों के मुताबिक आपसी रंजिश के चलते की गयी है। उनकी हत्या की वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है। म्हात्रे मुंबई से 20 किलोमीटर दूर भिवंडी इलाके में रहते हैं। म्हात्रे यहां अपने घर पर गाड़ी पार्क करके लॉबी में चल ही रहे थे कि घात लगाए बैठे कुल आठ हमलावर वहां पहुंचे और उन्होंने मनोज म्हात्रे पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से म्हात्रे जमीन पर गिर गए, जिसके बाद कातिलों ने उन पर कुल्हाड़ी से सपासप कई किये। मनोज म्हात्रे को गंभीर अवस्था में ठाणे के जुपिटर अस्पताल में ले जाया गया लेकिन उपचार के दौरान उनकी मौत हो गयी।
[video width="640" height="352" mp4="/uploads/2017/02/VID-20170215-WA0176.mp4"][/video]
मुंबई के पास भिवंडी में  कांग्रेसी नगरसेवक  मनोज म्हात्रे की हत्या में चहेरे भाई का नाम शक के घेरे में आ गया है। जांच कर रही पुलिस ने चचेरा भाई प्रशांत म्हात्रे सहित सात लोगों को मामले में आरोपी बनाया है. सभी आरोपी भाई फरार हैं।पुलिस के मुताबिक प्रशांत पर पहले से 10 के करीब आपराधिक मामले दर्ज हैं। साल 2013 में भी उसने  मनोज पर जानलेवा हमला किया था। मामले में उसे एक महीना जेल भी काटनी पड़ी थी. बताते हैं कि हत्या वाले दिन भी प्रशांत ने मनोज के एक करीबी को धमकाया था। इसकी शिकायत करके वे अपने घर लौट ही रहे थे कि उनकी सरेआम हत्या कर दी गई।
हत्यारों ने पहले गोली मारी फिर तेज धारदार हथियार से हमला किया था। सीसीटीवी की तस्वीरों और मृतक के ड्राइवर के बयान के आधार पर पुलिस ने प्रशांत म्हात्रे सहित सात लोगों को आरोपी बनाया है। पुलिस अधिकृत तौर पर अब भी इसे पारिवारिक रंजिश का ही नतीजा बता रही है। लेकिन इलाके के लोगों खासकर कांग्रेस के नेता की मानें तो ये राजनीतिक रंजिश का नतीजा है। प्रशांत बीजेपी में है जबकि मनोज कांग्रेस पार्टी में थे और इलाके से लगातार नगरसेवक चुनकर आ रहे थे। स्थानीय कांग्रेस नेता शोएब गुड्डू का आरोप है कि प्रशांत वहां से चुनाव लड़ना चाहता है लेकिन मनोज के रहते वह जीत नहीं सकता। इसलिए उसने उन्हें रास्ते से ही हटा दिया।