लैला-मजनूं हैं नीतीश मोदी

 14 Apr 2019  66

संवाददाता/in24 न्यूज़. 

चुनावी माहौल हो और चुनाव की तारीख़ करीब हो तब एक से बढ़कर एक बयानबाजी देखने सुनने को मिलती है. इसी कड़ी में असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तुलना लैला और मजनूं से कर दी है. गौरतलब है कि ऑल इंडिया मज्लिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि आपको वही गलती दोबारा नहीं करनी चाहिए। हाथ (कांग्रेस चुनाव चिन्ह) वाले कुछ और नहीं फिर से भाजपा का डर दिखाकर आपसे वोट मांग रहे हैं। आपको यह नहीं भूलना चाहिये कि भागलपुर दंगों और बाबरी मस्जिद खोले जाने के समय यही पार्टी बिहार और केन्द्र में सत्ता में थी। ओवैसी ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह राष्ट्रीय नागरिक पंजी लागू करने के नाम पर असम से समुदाय को बाहर निकालने की खुलेआम धमकी दे रहे हैं और कांग्रेस यह कहते हुए छाती पीट रही है कि हम क्या कर सकते हैं, हमारा तो राज्य में सिर्फ एक ही सांसद है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए औवेसी ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से असीम प्रेम है और दोनों की जोड़ी लैला-मजनूं की तरह लगती है। असदुद्दीन ओवैसी ने किशनगंज में कहा कि कांग्रेस मुसलमानों को भाजपा का डर दिखाकर वोट मांग रही है जबकि उसके शासन में ही भागलपुर के दंगे और बाबरी मस्जिद के परिसर को खोलने जैसे अत्याचार हुए थे।  मुस्लिम बहुल संसदीय सीट किशनगंज में अपनी पार्टी के उम्मीदवार की रैली को संबोधित करते हुए हैदराबाद के तेजतर्रार सांसद ओवैसी ने कहा कि मैंने आप लोगों को 2015 के विधनासभा चुनाव के दौरान आगाह किया था कि तथाकथित महागठबंधन के वादों के झांसे में न आएं। आपने ध्यान नहीं दिया और नीतीश कुमार को वोट दिया, जो अब भाजपा की गोद में बैठे हैं।