गीता पाठ में मुस्लिम छात्र अव्वल

 05 Oct 2018  57

संवाददाता/in24 न्यूज़।

   एक कहावत है कि दिल और मन में दृढ़शक्ति के साथ कोई भी काम किया जाए तो सफलता मिल ही जाती है. अमूमन धर्म ग्रंथों को वही लोग ज़्यादा पढ़ते हैं जिनका मज़हब उससे जुड़ा होता है. मगर बेंगलुरु में एक 14 साल के छात्र शेक मोहियुद्दीन ने  कमाल  कि आज उसकी तारीफ़  हो रही है. बेंगलुरु में मुस्लिम परिवार के 14 वर्षीय बेटे ने  भागवद गीता क्विज प्रतियोगिता में पहले स्थान प्राप्त करते हुए पुरस्कार जीता है। बता दें कि यह भागवद गीता प्रतियोगिता बैंगलोर के संजय नगर में आयोजित की गई थी जिसमें 14 स्कूलों के 400 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था। स्पर्धा में 14 साल के शेक मोहियुद्दीन ने भी हिस्सा लिया और पहला स्थान हासिल किया। मोहियुद्दीन सुभाष मेमोरियल स्कूल में नौवीं कक्षा का छात्र है। इस स्पर्धा में  भागवद गीता से जुड़े 41 बहुविकल्पीय सवाल पूछे गए थे।

मोहियुद्दीन के पिता का नाम शेक सलाहुद्दीन है और माता का नाम साबिया मोहम्मद है। माता-पिता का सबसे बड़ा बेटा है। मोहियुद्दीन के माता-पिता हेब्बल में बालाजी लेआउट में रहते हैं। पिता पैकेजिंग कंपनी के मालिक हैं। साबिया मोहम्मद के अनुसार मोहियुद्दीन जब 11 साल का था तब से ही वो भागवत गीता और धर्म से जुड़े सवाल करता था। इसके बाद उसे गीता की एक कॉपी खरीद कर दिया जिसे वो दादी मां के साथ बैठकर पढ़ता था।