सात साल बाद रणजी मैच खेल पाएंगे श्रीसंत

 18 Jun 2020  33

संवाददाता/in24 न्यूज़.
मैच फिक्सिंग से विवादों में आए क्रिकेटर एस श्रीसंत को बड़ी राहत मिली है. केरल क्रिकेट संघ ने सात साल से प्रतिबंध झेल रहे एस श्रीसंत को अपनी रणजी टीम में शामिल करने का फैसला किया है। श्रीसंत पर लगा प्रतिबंध सितंबर में खत्म हो जाएगा। गौरतलब है कि, मई 2013 में इंडियन प्रीमियर लीग में राजस्थान रॉयल्स के लिए खेलते हुए श्रीसंत पर अपने दो और साथी खिलाड़ी अजीत चंदीला और अंकित चव्हाण के साथ मैच फिक्सिंग के आरोप लगे थे। जिसके बाद उन्हें दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने तीनों खिलाड़ियों पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन श्रीसंत लगातार कोर्ट का दरवाजा खटखटाते रहे और 2015 में दिल्ली की एक विशेष अदालत में उन्हें सभी आरोपों से बरी कर दिया गया था। इसके बाद, 2018 में केरल उच्च न्यायालय ने भी श्रीसंत पर लगे आजीवन प्रतिबंध लगाने के बीसीसीआई के फैसले को निरस्त कर दिया था। मगर 2019 में सुप्रीम कोर्ट ने उनके अपराध को बरकरार रखा और बीसीसीआई को उनकी सजा की मात्रा कम करने को कहा। बाद में बीसीसीआई ने उनके प्रतिबंध को सात साल तक कम कर दिया। श्रीसंत ने कहा कि मैं  वास्तव में एक और मौका दिए जाने के लिए केसीए का आभारी हूं। मैं अपनी फिटनेस को खेल में साबित करूंगा। अब यह सभी विवादों को शांत करने का समय है। श्रीसंत की वापसी पर केसीए के सचिव सीरीथ नायर ने कहा कि उसकी वापसी राज्य टीम के लिए एक संपत्ति होगी। श्रीसंत ने भारतीय टीम के लिए 27 टेस्ट, 53 वन डे और 10 टी20 मुकाबले खेले हैं, जिनमें उन्होंने क्रमश 87, 75 और 7 विकेट झटके हैं। वे 2007 और 2011 की विश्व कप विजेता टीम के हिस्सा भी थे।