मोदी पुतिन की मुलाकात से कई अहम् फैसले

 05 Oct 2018  58

संवाददाता/in24 न्यूज़ 

  भारत और रूस के बीच एस-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम सौदे पर मुहर लग गई है। अमेरिका की नाराजगी के बावजूद भारत ने रूस के साथ पांच एस-400 मिसाइल समझौते पर हस्ताक्षर कर दिए हैं। इसके साथ ही भारत और रूस के बीच अंतरिक्ष में सहयोग को लेकर भी समझौता हो गया है। भारत साइबेरिया के शहर नोवोसबिरस्क में मॉनिटरिंग स्टेशन बनाएगा।

डेलिगेशन लेवल की बातचीत के बाद पीएम मोदी और रूसी राष्ट्रपति ने संयुक्त रूप से प्रेस को संबोधित किया।दोनों देशों के बीच 8 विभिन्न मुद्दों पर सहयोग के लिए हुए समझौतों के दस्तावेज आदान-प्रदान किए गए। पीएम मोदी ने कहा कि भारत और रूस के संबंधों का मानव संसाधन विकास से लेकर प्राकृतिक संसाधन, व्यापार से लेकर निवेश तक, नाभिकीय ऊर्जा के शान्तिपूर्ण सहयोग से लेकर सौर ऊर्जा तक, तकनीक से लेकर बाघ संरक्षण, सागर से लेकर अंन्तरिक्ष तक विशाल विस्तार होगा।

मोदी ने कहा कि आतंकवाद के विरूद्ध संघर्ष, अफगानिस्तान तथा इंडो पैसिफिक के घटनाक्रम, जलवायु परिवर्तन, एससीओ, ब्रिक्स जैसे संगठनों एवं जी20 तथा आसियान जैसे संगठनों में सहयोग करने में हमारे दोनों देशों के साझा हित हैं। हम अंतरराष्ट्रीय संस्थानों में अपने लाभप्रद सहयोग को जारी रखने पर सहमत हुए हैं। भारत-रूस मैत्री अपने आप में अनूठी है। इस विशिष्ट रिश्ते के लिए राष्ट्रपति पुतिन की प्रतिबद्धता से इन संबंधों को और भी ऊर्जा मिलेगी।