अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर याद आयी बच्चियां

 11 Oct 2018  27
in24न्यूज़/मुंबई- भारत नहीं पूरे विश्व में आज अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मनाया गया  (इंटरनेशनल डे ऑफ गर्ल चाइल्ड) इस अवसर पर दिल्ली सहित पूरे देश में जगह -जगह पर लोगों द्वारा कार्यक्रम किया गया जिनमें लड़कियों के संरक्षण के लिए समाज में किये जा रहे उपायों के बारे में चर्चा की गयी.राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण और सशक्तिकरण में बाल विवाह एक बड़ी समस्या बतायी गयी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसे बड़े पैमाने पर मनाने की इच्छा वरिष्ठ अधिकारियों से जताई थी जिसके लिए दिल्ली परिवहन निगम को आदेश दिया गया था कि 11 अक्तूबर को सुबह 6 बजे से रात 10 बजे तक महिलाओं और बच्चियों को मुफ्त यात्रा की सुविधा दिया जाय..देश में ऐसा पहली बार हुआ जब किसी सरकार ने अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर बसों की मुफ्त यात्रा की छूट दी हो।गौरतलब हैं कि हर साल 11 अक्टूबर को अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस' मनाया जाता है. इसे मनाने की शुरुवात संयुक्त राष्ट्र ने 2012 में की थी. इस दिन को मनाने का उद्देश्य विश्व में घटती  लड़कियों की संख्या और उनके विकास को बढ़ाना जो  समाज को समान अधिकार दिलाने में जागरूकता फैलाने का काम करेगी। अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस को बढ़ावा देने के लिये अलग -अलग देशों में कई तरह के कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता हैं जिसके अंतर्गत लड़कियों की शिक्षा,पोषण और उनके कानूनी अधिकार चिकित्सा देखभाल की जागरूकता फैलाई जाती हैं. अंतरराष्ट्रीय बाल विवाह पर प्रतिबंध कानून इसी दिन से शुरू किया गया था।