भारतीय बच्ची की प्यास से अमेरिका में गई जान

 15 Jun 2019  52

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
जल है तो कल है और जल ही जीवन है जैसी कहावतें सुनने के बावजूद आज भी लोग पानी की व्यवस्था से जूझ रहे हैं. भारत में पानी की समस्या किस कदर विकराल रूप धारण कर चुकी है, इसका सबसे बड़ा दर्द किसानों की बदहाली से समझी जा सकती है. मगर अमेरिका जैसे सम्पन्न देश में अगर कोई भारतीय बच्ची महज पानी न मिलने के कारण  प्यास से दम तोड़ दे तो कैसी तरक्की और कैसी सुरक्षा! झुलसा देने वाली गर्मी से अमेरिका भी परेशान है. यहाँ भी लोग पेय जल को लेकर परेशां हैं क्योंकि पानी की लगातार कमी होती जा रही है. गौरतलब है किअमेरिका की गर्मी का अंदाजा इस बात से ही पता लगाया जा सकता है कि यहां एक 6 साल के बच्चे की मौत हो गई है. अमेरिका के दक्षिणी रेगिस्तान में तापमान का पारा इतना काफी बढ़ गया है कि यहां लोग पानी से तरस रहे हैं. यहां पारा 42 पार कर चुका है. प्यास से मरने वाला बच्ची भारतीय प्रसावी बताया जा रहा है. ये यहां की दूसरी घटना है. अमेरिका-मेक्सिको सीमा पर प्रवासियों की संख्या बढ़ती जा रही है. यहां अधिक गर्मी के कारण हालात बिगड़ रहे हैं. पानी के कमी के कारण लोग काफी परेशान हैं. इस बात की जानकारी अमरेका सीमा पेट्रोल ने दी है. गौरतलब है कि प्रवासी भारतीयों की संख्या मेक्सिको सीमा पर लगातार बढ़ती जा रही है. एशियाई प्रवासी हजारों की संख्या में अमरीका में शरण पाने की कोशिश कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि यहां एक परिवार अपने तीन बेटी के साथ था. मां अपनी बेटी के लिए पानी के लिए भटक रही थी. बच्ची को समय पर पानी ना मिलने के कारण उसकी मौत हो गई. बच्ची का नाम गुरप्रीत बताया जा रहा है. उसकी मां एक अन्य महिला के साथ पानी की तलाश में लगी थी. जब तब मां पानी लेकर लौटती, तब तक बच्ची की मौत हो गई.