पाकिस्तान की कंगाली पर ब्रिटेन का तमाचा

 20 Jul 2019  60

संवाददाता/in24 न्यूज़.  

 

दुनिया के पटल पर अलग-थलग पड़ता पाकिस्तान आर्थिक रूप से टूटी कमर के दर्द से जहां परेशान है, वहीं अब उसके सामने एक नई मुश्किल आन पड़ी है. गौरतलब है कि पाकिस्तान को 2013 से 2018 के बीच ब्रिटेन से मिली मदद की संसदीय जांच के बीच इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि पाकिस्तान को अगले साल ब्रिटेन से मिलने वाली आर्थिक मदद में बेहद कमी आ सकती है. पाकिस्तान के एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इसके साथ ही ब्रिटेन में बढ़ती गरीबी और देश की सरकार पर ब्रेक्सिट के मुद्दे पर राजनैतिक तनाव के बीच विदेशी सहायता में कटौती के भारी दबाव के कारण भी पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक मदद में कटौती हो सकती है. ब्रिटिश संसद की अंतर्राष्ट्रीय विकास समिति (आईडीसी) के एक सूत्र ने कहा कि पाकिस्तान के लिए अंतर्राष्ट्रीय विकास विभाग (डीएफआईडी) के सहायता कार्यक्रम की आईडीसी द्वारा की जा रही जांच में इस मदद के खर्च के तौर तरीके की पड़ताल की जा रही है. उन्होंने साथ ही इस बात की पुष्टि की कि सरकार पर इस बात के लिए भारी दबाव है कि वह पाकिस्तान समेत अन्य देशों को दी जाने वाली मदद को या तो रोक दे या इसमें भारी कटौती करे.