वैक्सीन लगाने के 38 दिन बाद डॉक्टर हुए कोरोना पॉजिटिव

 24 Feb 2021  773

संवाददाता/in24 न्यूज़.
विश्वव्यापी महामारी कोरोना से बचने के लिए बड़े पैमाने पर लोगों को वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया शुरू है. मगर इस बीच खबर है कि पिंपरी चिंचवड मनपा के भोसरी अस्पताल के एक डॉक्टर को कोरोना वैक्सीन टीका लगाने के 38 दिनों बाद पॉजिटिव पाया गया है। उन्हें इलाज के लिए पिंपरी चिंचवड़ के यशवंतराव चव्हाण मेमोरियल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कोरोना के मरीजों के सीधे संपर्क वाले सभी डॉक्टरों, नर्सों और अन्य सभी स्वास्थ्य कर्मचारियों को योद्धाओं के रूप में टीका लगाया जा रहा है। इस टीकाकरण की प्रक्रिया में डॉक्टरों और अन्य कर्मचारियों को पिछले कई दिनों में टीका लगाने की प्रक्रिया जारी है। उनके अनुसार शहर में अब तक 19 हजार 086 कोविड योद्धा कार्यकर्ताओं को टीका लगाया जा चुका है। इस बीच पालिका के सभी अस्पतालों के डॉक्टर और कर्मचारी कोविड के पॉजिटिव रोगियों के सीधे संपर्क में आ गए हैं और उनमें से कुछ को टीका लगने के बाद पॉजिटिव मिल रहे है। भोसरी अस्पताल के एक डॉक्टर को शरीर में दर्द,सर्दी और खांसी का पता चला। चेकअप के दौरान रिपोर्ट पॉजिटिव आयी। डॉ.पवन सालवे ने कहा कि यह डॉक्टर टीकाकरण से पहले गांव से बाहर गए  या उन्होंने लौटने के बाद अपने लक्षण दिखाए हैं? इसके बारे में हम जानकारी हासिल करेंगे। क्या टीका लगने के बाद उन्होंने दूसरी खुराक ली है या नहीं इसकी जांच चल रही है। हालांकि टीकाकरण के 38 दिनों बाद उन्हें लक्षणों का अनुभव होना शुरू हो गया। परीक्षण के बाद यह सकारात्मक पाया गया। उन्हें तत्काल अलग-थलग करके वाईसीएम में इलाज किया जा रहा है। डॉ. पवन सालवे इस प्रकरण को गंभीरता से लिया और जांच करने का भरोसा दिया कि आखिर टीका के बाद डॉक्टर पॉजिटिव कैसे हुआ। अब यह पता लगाय जाएगा कि आखिर यह सब कैसे हुआ!