कोरोना ने फिर बढ़ाई चिंता

 28 Feb 2021  2720

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
जानलेवा महामारी कोरोना ने देश में एकबार फिर चिंता पैदा कर दी है। करीब पांच दिन से कोरोना से मरने वालों की संख्या सौ से अधिक बनी हुई है, वहीं संक्रमण के नए मामले चौथे दिन भी 16 हजार से अधिक रहे। इस बीच देश में अब तक एक करोड़ 43 लाख एक हजार 266 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शनिवार सुबह जारी आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान 113 लोगाें की मौत से मृतकों की कुल संख्या एक लाख 57 हजार 51 हो गयी है। बुधवार से रविवार तक हर दिन मृतकों की संख्या सौ से ऊपर रही है। बुधवार को 104, गुरुवार को 138, शुक्रवार को 120 और शनिवार को 113 लोगों की मौत हुई थी। पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के 16,752 नए मामले आए हैं जिससे संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 10 लाख 96 हजार 731 हो गई है और 11,718 मरीज स्वस्थ हुए हैं जिसे मिलाकर अब तक एक करोड़ सात लाख 75 हजार 169 लोग कोरोनामुक्त हो चुके हैं। सक्रिय मामले 4,921 बढ़कर 1.64 लाख से अधिक हो गए हैं। देश में रिकवरी दर घटकर 97.10 रह गई है और सक्रिय मामलों की दर बढ़कर 1.48 प्रतिशत हो गई है जबकि मृत्युदर अभी 1.42 फीसदी है। महाराष्ट्र कोरोना का सक्रिय मामला शीर्ष पर पहुंच गया है और राज्य में पिछले 24 घंटों के दौरान सर्वाधिक 4924 सक्रिय मामले बढ़ने से इनकी संख्या 73,734 हो गई है। राज्य में 3648 मरीज स्वस्थ हुए, जिसे मिलाकर कोरोना को मात देने वालों की तादाद 20.20 लाख हो गई है जबकि 51 और मरीजों की मौत से मृतकों का आंकड़ा बढ़कर 52,092 हो गया है। केरल में पिछले 24 घंटों के दौरान सक्रिय मामले 876 घटकर 50,803 रह गए और 4650 मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोना को मात देने वालों का आंकड़ा बढ़कर एक लाख के पार हो गया है जबकि 18 और मरीजों की मौत से मृतकों की संख्या 4182 हो गई है। कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामले बढ़कर 5657 हो गये हैं। राज्य में मृतकों का आंकड़ा 12,326 हो गया है तथा अब तक 9.32 लाख से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं। तमिलनाडु में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 4036 रह गयी है तथा अभी तक 12,493 लोगाें की मौत हुई है। राज्य में 8.34 लाख से अधिक मरीज संक्रमणमुक्त हुए हैं। बता दें कि अपने कार्यक्रम मन की बात के माध्यम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जबतक कोरोना का खतरा बरकरार है तबतक कोई ढिलाई नहीं करनी चाहिए।