निकाह में शौहर के हिंदू निकलने से मचा हड़कंप

 20 Jun 2021  232

संवाददाता/in24 न्यूज़.
शादी में धोखाधड़ी के मामले आते रहते हैं, मगर यूपी के महाराजगंज में एक निकाह के दौरान उस वक्त हड़कंप मच गया, जब दूल्हा मुस्लिम नहीं बल्कि हिंदू निकला। दरअसल, मौलवी जब निकाह पढ़वा रहे थे तो अरबी बोलते वक्त दूल्हे की जुबान लड़खड़ाने लगी, इससे मौलवी को शक हुआ। जब दूल्हे की जांच की गई तो पता चला कि वो हिंदू है। इस पर हंगामा शुरू हो गया। लोगों ने दूल्हे की पिटाई शुरू कर दी। भागने की कोशिश पर घरातियों ने कुछ बारातियों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। ये मामला कोल्हुई थाना इलाके का है। गांव की लड़की का सिद्धार्थनगर के रहने वाले युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों की दोस्ती सोशल मीडिया के जरिए हुई थी। बातचीत का सिलसिला करीब दो सालों से चल रहा था। इस दौरान दोनों में नजदीकियां और बढ़ गई। प्यार को अंजाम तक ले जाने के लिए दोनों ने शादी की इच्छा जताई। युवती के घर वालों ने शादी पर सहमति जताते हुए बारात लाने की बात कही। युवक ने कोरोना महामारी का हवाला देते हुए दो-चार लोगों को ही बारात में लाने को कहा। रविवार को लड़का निकाल के लिए पहुंच भी गया था। मौलवी ने निकाह पढ़ना शुरू भी कर दिया। इसी दौरान उर्दू के कुछ शब्दों को पढ़ते वक्त दूल्हा हकलाने लगा। मौलवी को शक हुआ तो उसकी तलाशी लेने पर जेब मे पैन कार्ड मिला। पैन कार्ड में पता चला की लड़का मुस्लिम नहीं था। दूल्हे के साथ उसके घर वाले शादी में नहीं आए थे।  मामला सामने आने के बाद हंगामा शुरू हो गया। वहां मौजूद गुस्साए लोगों ने दूल्हे की जमकर पिटाई कर दी। मामला थाने तक भी पहुंचा। पुलिस ने दूल्हे और बारात में आए कुछ युवकों को अपनी अभिरक्षा में लिया है। युवकों ने बताया कि वो दूल्हे के दोस्त हैं। वहीं, पुलिस के मुताबिक दूल्हे के परिजनों का कहना है कि उन्हें इस शादी के बारे में कोई जानकारी नहीं है। प्रभारी निरीक्षक कोल्हुई दिलीप शुक्ला ने दोनों पक्षों में बातचीत का का दौर शुरू होने की पुष्टि की है। आगे की जांच जारी है।