दहिसर कोविड सेंटर पर लगा वैक्सिन की कालाबाज़ारी का आरोप

 02 Aug 2021  220

संवाददाता/in24 न्यूज़

आर्थिक राजधानी मुंबई के दहिसर इलाके में एक ऐसा बैनर लगाया गया है, जिसने सभी को हैरान कर दिया है. बताया जा रहा है कि यह बैनर समाजवादी पार्टी की ओर से लगाया गया है, जिसमें यह कहा गया है कि जगह-जगह मुंबई में वैक्सीन की कालाबाजारी चल रही है, दूसरी तरफ मुंबईकर वैक्सीन की किल्लत का सामना कर रहे हैं. अब समाजवादी पार्टी ने इस बैनर को लगाकर सबका ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करने की कोशिश की है, उनका कहना है कि मुंबई के दहिसर वैक्सीनेशन सेंटर पर कालाबाजारी धड़ल्ले से की जा रही है. स्थानीय लोगों के मुताबिक यह मामला तब सामने आया, जब शिवसेना के शाखा प्रमुख प्रकाश पुजारी और समाजवादी पार्टी के नेता शिव कुमार यादव ने दहिसर इलाके में यह बैनर लगाया. बैनर के माध्यम से बताया गया है कि दहिसर वैक्सीन सेंटर पर वैक्सीन की कालाबाजारी की जा रही है इसके अलावा लिखित शिकायत भी मुंबई पुलिस उपायुक्त और महानगरपालिका और स्थानीय विधायक को दी गई है. शिवसेना नेता प्रकाश पुजारी ने बताया कि यहां की डीन डॉ दीपा श्रेयन के नेतृत्व में वैक्सीन की कालाबाजारी की जाती है. इसके अलावा.आरोप ये भी है कि वैक्सीन के लिए लोग मुंबई के अलग-अलग इलाकों से पूरी रात यहां लाइन में खड़े रहते हैं, लेकिन जब सुबह टोकन देने की बात आती है, तो कुछ लोगों को ही टोकन दिया जाता है और बाकी के लोगों से ये कह दिया जाता है कि वैक्सीन की संख्या कम है. लेकिन जब वैक्सीन लगवाने के लिए लाइन में खड़े लोगों को पता चलता है कि वैक्सीन की मात्रा कम होने की वजह से उन्हें वैक्सीन नहीं लग पाएगी, तो वे मायूस होकर लौट जाते हैं और उनके लौटते ही वैक्सीनेशन सेंटर पर मौजूद स्टाफ की मनमानी शुरू हो जाती है. और फिर पैसे देने वालों को निजी तौर पर वैक्सीन देने का सिलसिला शुरू हो जाता है. इस मामले में समाजवादी पार्टी और शिवसेना की तरफ से भेदभाव का आरोप लगता जा रहा ही. इस मामले को लेकर जब यहां की डीन दीपा श्रेयन से बात हुई, तो उन्होंने कहा कि यहां पर जो भी किया जाता है. कायदे में किया जाता है . यहां बोर्ड लगा हुआ है जिस पर मुफ्त वैक्सीन देने की बात लिखी गई है और अगर उसके बाद भी कोई पैसा देता है तो मुझे नही पता. और बताया कि यहां अगर कोई स्टाफ या उच्च अधिकारियों से कॉल आता है तो उनके लोगों को भी वैक्सीन की डोज दी जाती है जिसका हम रिकॉर्ड रखते है.