उमेश कोल्हे के व्हाट्सएप ग्रुप में शामिल और लोगों को भी मिली थी जान से मारने की धमकी

 04 Jul 2022  47

संवाददाता/in24 न्यूज़.
महाराष्ट्र के अमरावती में केमिस्ट उमेश कोल्हे की हत्या के बाद माहौल तनावपूर्ण बना हुआ है. उमेश कोल्हे द्वारा बनाए गए व्हाट्सएप ग्रुप में शामिल और लोगों को भी जान से मारने की धमकियां मिली थीं. इन लोगों को नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर माफी मांगने के लिए कहा गया था. उधर, पुलिस ने अमरावती में फ्लैग मार्च किया है. ऐसी ही एक कॉल डॉ राठी के पास आई थी. उन्हें उमेश कोल्हे की हत्या के मास्टरमाइंड इरफान शेख के रहबर हेल्पलाइन से फोन किया गया था. पुलिस ने डॉ राठी का बयान दर्ज कर लिया है. पुलिस मामले की जांच में जुट गई है. उदयपुर की तरह अमरावती में भी नूपुर शर्मा के पोस्ट का समर्थन करने पर केमिस्ट की हत्या कर दी गई. उमेश कोल्हे की हत्या 21 जून को अमरावती के घंटाघर के श्याम चौक इलाके में हुई थी. पुलिस के मुताबिक, आरोपियों ने कोल्हे की गर्दन पर चाकू से वार किया था. हमले के वक्त उमेश बाइक से अपने घर लौट रहे थे. पुलिस ने बताया था कि यह हत्या नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने को लेकर हुई. हाल ही में इसी तरह का मामला राजस्थान में सामने आया. जहां उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट करने पर टेलर कन्हैया लाल की हत्या कर दी गई. नूपुर शर्मा ने पैगंबर मोहम्मद को लेकर विवादित टिप्पणी की थी. दोनों मामलों में गृह मंत्रालय ने जांच को एनआईए (NIA) को सौंप दी है. पुलिस ने अब तक सात आरोपियों इरफान खान, मुदस्सर अहमद, शाहरुख पठान, अब्दुल तौफीक, शोएब खान, आतिब रशीद और यूसुफ खान को गिरफ्तार किया है. इनमें से चार आरोपी इरफान खान के दोस्त थे और उसके एनजीओ में काम करते थे. एनआईए ने सातों आरोपियों को अज्ञात जगह पर ले जाकर पूछताछ शुरू कर दी और आगे की कार्रवाई भी शुरू है.