यूपी में पहले अपहरण फिर हत्या

 29 Jul 2020  25

संवाददाता/in24 न्यूज़.
उत्तर प्रदेश में क़ानून पर लगाम लगाने के बावजूद आपराधिक गतिविधियां अबतक रुक नहीं पाई हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अपराधों पर गंभीर होने के बाद भी वारदातें रुकने का नाम नहीं ले रहीं हैं। ताजा मामले में कानपुर देहात के देवरहा थाना इलाके में एक कर्मचारी की अपहरण के बाद मंगलवार को हत्या कर दी गई। अपहरणकर्ताओं ने 20 लाख रुपए फिरौती मांगी थी। जानकारी के मुताबिक धर्मकांटा में काम करने वाले कर्मचारी का बीते 16 जुलाई को अपहरण कर लिया गया था। मृतक के परिजनों ने पुलिस पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। जिसके बाद यूपी पुलिस पर एक बार फिर से सवाल उठ खड़े हुए हैं। बदमाशों के 20 लाख रुपए मांगने का वीडियो भी वायरल हो चुका था। लेकिन पुलिस ब्रजेश को नहीं बचा पायी। परिजनों ने घटना की शिकायत पुलिस से की थी और अपरणकर्ताओं के नंबर भी पुलिस को सौंप दिए थे। जाहिर है यह उत्तर प्रदेश के लिए बड़ी चुनौती है कि अपराधियों पर किस तरह शिकंजा लगाया जाए!