कोरोना के नाम पर इलाज करनेवाला फर्जी डॉक्टर गिरफ्तार

 11 Sep 2020  29

संवाददाता/in24 न्यूज़.
आज जहां पूरी दुनिया पर विश्वव्यापी जानलेवा महामारी कोरोना का खौफ है, वहीं ऐसे लोगों की कमी नहीं है जो लोगों को लूटने से बाज नहीं आ रहे. एक ऐसे ही फर्जी डॉक्टर को कोरोना का इलाज करने के नाम पर गिरफ्तार किया गया है. बता दें कि हैदराबाद के राचकोंडा पुलिस थाना क्षेत्र में एक नकली डॉक्टर ने लोगों को मूर्ख बनाकर उनका इलाज किया। तेजारेड्डी नाम से इस शख्स ने फर्जी सर्टिफिकेट बनाया और पुलिस को ही अपनी बातों में फंसाकर, मस्का लगाकर लॉकडाउन के दौरान कई निजी अस्पतालों में डॉक्टर के रूप में काम किया। खबर है कि उसी समय राचकोंडा क्षेत्र में कई पुलिसकर्मियों को कोरोना की दवाएं भी उसने प्रदान की। हालांकि, कुछ समय बाद पुलिस को तेजारेड्डी के व्यवहार से उस पर शक हुआ तो उन्होंने जांच की तब जाकर उसका असली चेहरा सामने आया.  पुलिस को पता चला कि इससे पहले उसने बिलकुल इसी तरह बैंगलोर की पुलिस को भी चकमा दिया था। वहां उसने पुलिस को बताया था कि वह एक आईपीएस अधिकारी है, एक वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी का बेटा हूं कहकर, पुलिस विभाग के लिए विशेष कक्षाएं संचालित करके पुलिस कर्मियों को प्रशिक्षित करने का काम करता था।  बाद में जब उसकी पोल खुली तो बैंगलोर पुलिस ने तेजारेड्डी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। इसके बाद वह जमानत पर रिहा होकर हैदराबाद आ गया और यहां आकर डॉक्टर बनकर पुलिस को ही चकमा दे दिया। इसके अलावा और भी अनेक फर्जीवाड़ा में वह शामिल रहा है. पुलिस उसके तह तक जाने की जांच में जुट गई है.