बेटे के चक्कर में मां ने ली बेटी की जान

 18 Sep 2020  187

संवाददाता/in24 न्यूज़.
आज भी बेटियों के मुकाबले महिलाएं बेटा चाहती हैं. मध्यप्रदेश के डेहरिया खजूरी गांव में रहने वाली एक महिला ने बेटे की चाहत में अपनी बच्ची की हत्या की कर दी। महिला ने पुलिस के सामने अपना यह जुर्म कबूल कर लिया है। बता दें कि  बुधवार सुबह 11 बजे अचानक लापता हो गई। आसपास तलाश करने के बाद भी मासूम का पता नहीं चला। दोपहर दो बजे पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने घर में तलाशी शुरू की। इस दौरान घर में रखी पानी की टंकी से बच्ची मृत अवस्था में बरामद हुई। खबरों के अनुसार महिला का नाम सरिता है। उसकी उम्र 21 साल की है। एक साल पहले उसकी सचिन मेवाड़ा से शादी हुई थी। किंजल उनकी पहली संतान थी। बताया जा रहा है कि महिला और उसके परिवारवाले बेटी के जन्म से खुश नहीं थे। मिली जानकारी के अनुसार सरिता पूछताछ के दौरान पुलिस को बार-बार गुमराह करती रही। उसका कहना था कि उसे भूत आते हैं। बेटी होने के कारण उसे सभी ताना देते थे। वह शुरूआत में बहकी-बहकी बातें करती रही। बाद में पुलिस ने जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने बताया कि उसने ही बेटी को पीने के पानी की टंकी में डुबोकर ऊपर से ढक्कन लगा दिया। इसके बाद शोर मचाकर लोगों को जमा कर लिया। पुलिस से बात करते-करते वह कई बार बेहोश हुई। ऐसे में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह मामला बीते  बुधवार का है। दरअसल बच्ची रहस्यमयी हालत में गायब हो गई थी। दोपहर करीब 11 बजे बच्ची की मां सरिता ने जोर-जोर से चिल्लाना शुरू कर दिया। उसने बताया कि उसकी बेटी किंजल कहीं नहीं मिल रही है। घरवालों ने बच्ची की खोजबीन शुरू की। सोचा कि शायद उसे कोई जानवर न ले गया हो। बाद में पुलिस को खबर की गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शुरूआती जांच की तो उसे यह मामला हत्या का लगा। घरवालों ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि उनकी ज्वाइंट फैमिली है। इस फैमिली में कुल 11 सदस्य हैं। सभी घर वाले बुधवार को खेत पर गए थे। इसके बाद पुलिस ने घर में तलाशी शुरू की। इस दौरान घर में रखी पानी की टंकी से बच्ची मृत अवस्था में मिली। फिलहाल पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही। इस घटना के बाद सबसे बड़ा सवाल यह है कि बेटियों से यह नफरत आखिर कब खत्म होगी!