कोरोना में युवक को यूपी में ऐयाशी पड़ी महंगी, विदेशी कॉलगर्ल की मौत

 11 May 2021  322

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
ऐयाशी करनेवाले लोग समय की नज़ाकत नहीं समझते और बिना सोचे समझे ऐसा कदम उठा लेते हैं जिससे लेने के देने पड़ जाते हैं। लखनऊ में कोरोना से मौत का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे जानकर आप भी दंग रह जाएंगे। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए शासन ने कर्फ्यू लगा रखा है। वहीं, दूसरी ओर लखनऊ के एक व्यापारी के बेटे ने बैंकॉक से 7 लाख रुपए में कॉल गर्ल बुलाई। करीब 10 दिन पहले राजधानी के पॉश इलाके की कालोनी में उसे रखा। लखनऊ आने के बाद कॉल गर्ल को कोरोना हो गया। उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। अस्पताल से इसकी जानकारी पुलिस को हुई तो शव का पोस्टमार्टम कराया गया और अंतिम संस्कार के इंतजाम किए गए। विभूति खंड पुलिस ने थाईलैंड की रहने वाली लड़की की मौत की सूचना मिलने पर एंबेसी को भी सूचित किया गया। दिल्ली दूतावास से संपर्क कर उसका अंतिम संस्कार कराया गया। इस दौरान लोकल गाइड भी मौजूद था। करीब 10 दिन पहले थाईलैंड की एक कॉल गर्ल को राजधानी के पॉश इलाके की कालोनी में रहने वाले एक व्यापारी के बेटे ने बुलाया था। लड़की राजधानी पहुंची और युवक के साथ उसके घर भी गई। करीब दो दिन बाद उसकी तबीयत बिगड़ी तो उसे 28 अप्रैल को लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां जांच में उसको कोरोना की पुष्टि हुई। इलाज के दौरान लड़की की 3 मई को मृत्यु हो गई।  4 मई को थाईलैंड दूतावास ने मृतका के भाई से संपर्क कर भारत में गाइड सलमान नाम के युवक की देखरेख में अंतिम संस्कार कराए जाने की जानकारी दी। चोरी से ही व्यापारी के बेटे ने भारत स्थित थाईलैंड एंबेसी से संपर्क कर घटना कि जानकारी दी जिसके बाद थाईलैंड एंबेसी ने प्रशासन के सहयोग से लड़की का अंतिम संस्कार कराया। बता दें कि कोरोना काल में सबसे ज़रूरी है अपनी आदतों पर नियंत्रण वर्ना मामला गंभीर होना तय है।