21 मई से अब हर साल मनाया जाएगा आतंकवाद विरोधी दिवस

 14 May 2022  28
संवाददाता/in24 न्यूज़.
आतंकवाद आज की तारिख में एक बड़ी समस्या के तौर पर चिंता पैदा की है। केंद्र सरकार अब हर साल 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने जा रही है। इसको लेकर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को पत्र जारी किया गया है। यह पत्र सभी राज्य के मुख्य सचिवों, सभी मंत्रालयों और विभागों के सचिवों को लिखा गया है। पत्र में कहा गया है, इस दिन को मनाने का उद्देश्य युवाओं को आतंकवाद और हिंसा से दूर करना है। पत्र में कहा गया है कि केंद्र सरकार के कार्यालयों में 21 मई को शनिवार होने के चलते अवकाश रहेगा। ऐसे में 20 मई को शपथ दिलवाई जा सकती है। हालांकि, राज्य सरकार के दफ्तरों या जहां शनिवार का अवकाश नहीं है वहां 21 मई को ही शपथ दिलवाई जाए। आतंकवाद विरोधी दिवस के मौके पर सरकारी दफ्तरों में आतंकवाद के खिलाफ शपथ दिलाया जाएगा। इसके अलावा सोशल साइट पर भी आतंकवाद के विरोध में संदेश प्रेषित किया जाएगा। इसके अलावा 21 मई को शनिवार के कारण कई सरकारी दफ्तरों में अवकाश रहेगा। गृह मंत्रालय के पत्र के मुताबिक, शपथ ग्रहण का एक मकसद देश के युवाओं को आतंकवाद के खिलाफ रखना भी है। इन दिन उन्हें आतंकवाद और हिंसा से दूर कर उन्हें जागरुक करने का काम किया जाएगा। इस दौरान युवाओं को आतंकवाद के खिलाफ केन्द्र सरकार की योजनाओं से भी अवगत कराया जाएगा। बता दें कि आज दुनिया के सामने आतंकवाद एक बड़ी चुनौती के रूप में  सामने है।