पाकिस्तान के घुसपैठियों को मारकर उसकी लाश लौटाई गई

 12 Aug 2020  35

संवाददाता/in24 न्यूज़।
पाकिस्तान से आज भी घुसपैठ लगातार जारी रखने की कोशिश की जाती है. मगर भारतीय सेना के जवान उसकी दाल नहीं गलने देते. बाड़मेर जिले के बाखासर थाना क्षेत्र स्थित भारत-पाक सरहद पर सीमा सुरक्षा बल की चेतावनी के बावजूद तारबंदी फांदकर भारतीय सीमा में जबरन प्रवेश कर रहे घुसपैठिए को मार गिराने के बाद 6-7 दौर की बातचीत के पश्चात मंगलवार रात को पाकिस्तान को उसका शव सुपुर्द किया गया। मंगलवार रात पिलर संख्या 919/2डी के गेट से शव को पाक रेंजर बख्तर खां, पाक पुलिस के एएसआई राणजीमल थाना हरहो पाक को बीएसएफ ने सुपुर्द किया। गत दिनों बाखासर से सटे भारत-पाक बॉर्डर तारबंदी को फांद रहे पाक घुसपैठिये को भारतीय बीएसएफ के जवानों ने मार गिराया था। इसके बाद पिछले 4 दिनों से भारत-पाकिस्तान के बीच बैठकों का दौर चला, लेकिन शव लेने से पाक इनकार करता रहा। इस बीच शव को पुलिस सुरक्षा में सुरक्षित डी-फ्रिज में रखवाया गया। मंगलवार को बीएसएफ और पाक रेंजर्स के बीच हुई सफल वार्ता के बाद शव उठाने के लिए राजी हुए। इस पर बाखासर थाना पुलिस, बीएसएफ जवानों ने शव को पाक पुलिस को सुपुर्द किया। बाखासर थानाधिकारी भंवरसिंह ने बताया कि मारे गए घुसपैठिए की पहचान भैरूमल पुत्र रतनो कोली उम्र 22 वर्ष निवासी धुधारी, हरहो थापारकर पाक के रूप में की गई। शव को सपुर्द करने के दौरान मृतक के भाई और पिता भी मौजूद रहे। चार दिन में भारत और पाक के बीच करीब 6-7 दौर की वार्ता हुई। इसके बाद पाकिस्तान शव लेने के लिए राजी हुआ। उल्लेखनीय है कि 8 अगस्त को बाखासर बॉर्डर इलाके में तारबंदी को पार कर आए पाक घुसपैठिये को बीएसएफ जवानों की ओर से चेतावनी देने के बाद भी नहीं रुकने पर मार गिराया था। पाकिस्तान की हरकत हर बार ऐसी होती है जिससे कभी सीज फायर का उल्लंघन होता है तो कभी घुसपैठ का मामला सामने आता है.