महाराष्ट्र के हर शिक्षण संस्थान में दिखेगी मोदी की लघु फिल्म

 12 Sep 2018  31
जितेंद्र मिश्रा / मुंबई - आगामी लोकसभा और विधानसभा चुनाव को देखते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस सरकार ने एक विशेष तैयारी की है. शिक्षकों के माध्यम से ग्रामीण इलाकों के आम लोगों के घर -घर पहुंचने के लिए शिक्षा विभाग ने पीएम मोदी पर बनी फिल्म "चलो जीते हैं" को हर स्कूल में पढ़ने वाले छात्र और छात्राओं को दिखाने का आदेश दिया है। सूत्रों के अनुसार आगामी लोकसभा चुनाव में भाजपा की लोकप्रियता को बढ़ाने और दोबारा सत्ता पर काबिज होने के लिए सरकार ने यह निर्णय लिया है. अपुष्ट सूत्रों के अनुसार राष्ट्रीय पुरस्कार पाने वाले मंगेश हड़वले द्वारा निर्देशित पीएम मोदी के जीवन पर आधारित लघु फिल्म चलो जीते हैं को 18 सितम्बर को तीन बजे राज्य के सभी स्कूलों और कॉलेजों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को अधिक से अधिक दिखाने का निर्देश राज्य सरकार ने दिया है, जिसका आदेश शिक्षा विभाग की तरफ से दिया गया है. सूत्रों के अनुसार सरकार के सभी जिला परिषद् और महापालिका के अंतर्गत स्कूलों और विद्यालयों में दो दिन के भीतर फिल्म पहुंचाने का निर्देश वरिष्ठ अधिकारियों ने दिया है. दूसरी तरफ सरकार के इस आदेश से शिक्षा विभाग के साथ -साथ विपक्ष भी इसका जमकर विरोध कर रहा है राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी जीतने के लिए इस तरह का काम कर रही है और सरकारी पैसों का दुरुपयोग करके विद्यार्थियों को पीएम मोदी के जीवन पर आधारित फिल्म को दिखाकर सरकार उनके माता -पिता और परिवार को बीजेपी से जोड़ना चाहती है, ऐसा गंभीर आरोप भी नवाब मलिक ने राज्य की फड़णवीस सरकार पर लगाया है।