रिटायर्ड पूर्व नेवी अधिकारी पर शिवसैनिकों का हमला, आरोपियों को मिली जमानत

 12 Sep 2020  17

संवाददाता/in24 न्यूज़.
मुंबई के कांदिवली ईस्ट के ठाकुर कॉम्प्लेक्स में रहने वाले नेवी के रिटायर्ड ऑफिसर मदन शर्मा संग शुक्रवार को मारपीट के मामले में गिरफ्तार छह शिवसैनिकों को 12 घंटे के भीतर पुलिस स्टेशन से ही जमानत दे दी गई है। सभी पर जमानती धाराएं लगाई गई थी, इसी को आधार बनाकर पुलिस स्टेशन से इन्हें जमानत दी है। इनमें शिवसेना के शाखा प्रमुख कमलेश कदम और पदाधिकारी संजय मांजरे भी शामिल हैं। मदन शर्मा की एफआईआर पर मुंबई के समता नगर पुलिस स्टेशन में छह नामजद और दो अज्ञात लोगों पर एफआईआर दर्ज हुई है। इस मामले को लेकर आज सेना के कई पूर्व अधिकारी और कर्मचारी आज मदन शर्मा से मिलने के लिए संजीवनी हॉस्पिटल पहुंचने वाले हैं। भाजपा के कुछ नेता शर्मा का हाल जानने के लिए हॉस्पिटल पहुंचे। शर्मा से मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर मुंबई में आज भाजपा शहर के अलग-अलग हिस्सों में प्रदर्शन करने वाली है। मदन शर्मा से भाजपा नेता किरीट सोमैया मिलने पहुंचे। मदन शर्मा के बेटे सनी शर्मा ने आरोप लगाते हुए कहा कि वे मुंबई में पैदा हुए और यहीं उनका लाइफ बीती है। इसके बावजूद नार्थ इंडियन होने के कारण उनके पिता के साथ मारपीट हुई। शिवसैनिकों ने उम्र का लिहाज नहीं करते हुए उनपर हमला किया। अब उन्हें डर लगने लगा है कि आगे भी उनके और उनके परिवार के साथ ऐसी घटनाएं हो सकती हैं। उनकी बेटी शीला शर्मा ने भी अराजकता का माहौल होने का आरोप लगाते हुए राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है। उन्होंने यह भी कहा है कि शिवसेना के लोग सत्ता का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। दोनों ने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए उन्हें पुलिस स्टेशन से जमानत देने का विरोध किया है। नेता विपक्ष देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि गुंडा राज रोकिए उद्धव जी. पूर्व नेवी ऑफिस पर हमले को लेकर बीजेपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम फडणवीस ने उद्धव ठाकरे सरकार पर ट्वीट कर हमला बोला। फडणवीस ने कहा कि काफी दुखद और अचंभित करने वाली घटना है। रिटायर्ड नेवी ऑफिसर की सिर्फ इसलिए पिटाई की गई क्योंकि वॉट्सऐप पर फोटो फॉरवर्ड किया था। कृपया गुंडा राज रोकिए उद्धव जी। हम ऐसे गुंडों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई और सजा की मांग करते हैं। बता दें कि इस मुद्दे को लेकर बीजेपी ने आंदोलन शुरू कर दिया है.