यूपी के नामक घोटाले में आया राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद का नाम

 16 Sep 2020  22

संवाददाता/in24 न्यूज़.
नमक को लेकर यूपी में नया घोटाला सामने आया है. पशुधन घोटाले के बाद अधिकारियों-मंत्रियों की मिलीभगत से एक और घोटाले की सुगबुगाहट है। खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में नमक की सप्लाई का ठेका दिलाने के नाम पर हुए करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में भी पशुधन राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद की संलिप्पतता का शक है। जानकारी इकट्ठा करने के लिए राज्यमंत्री से पुलिस पूछताछ करेगी। राज्यमंत्री जय प्रकाश निषाद को पूछताछ के लिए नोटिस भेजने की तैयारी है। मंत्री से पशुधन फर्जीवाड़े में एसीपी गोमती नगर पूछताछ कर चुकी है। इन दोनों फर्जीवाड़े के मुख्य आरोपी आशीष राय का मंत्री के दफ्तर में काफी आना-जाना था। पुलिस को शक है कि मंत्री को भी इस नए फर्जीवाड़े की जानकारी हो सकती है। इससे पहले यूपी के पशुपालन विभाग में आटे की सप्लाई के नाम पर ठगी हुई थी। इसमें गुजरात के व्यापारी नरेंद्र पटेल ने एफआईआर दर्ज करायी थी, जिसमें पत्रकारों अधिकारियों ने व्यापारी को पशुधन विभाग मे ठेका दिलाने के नाम पर करोड़ों रूपये ठगे थे. पशुपालन विभाग के मामले की जांच के दौरान ही खाद्य एवं आपूर्ति विभाग का फर्जीवाड़ा सामने आया था। विरोधियों ने इस बात की चर्चा शुरू कर दी है कि प्रधानमंत्री ने कहा था कि न खाऊंगा न खाने दूंगा, फिर घोटाले की बात सामने कैसे आई!