राज्य सभा के आठ सांसद किए गए सस्पेंड

 21 Sep 2020  35

संवाददाता/in24 न्यूज़.
राज्य सभा में हंगामा करनेवाले आठ सांसदों को सस्पेंड कर दिया गया है. राज्यसभा में विपक्ष के हंगामे के बीच रविवार को केंद्र सरकार विपक्ष के विरोध के बीच दोनों बिलों को राज्यसभा में पास कराने में सफल रही। इस दौरान सदन की मर्यादा तार-तार हो गई। विपक्ष के कई सांसद उपसभापति के चेयर तक पहुंच गए। इस दौरान माइक तोड़ दिए गए और रूल बुक भी फाड़ दी गई। आज सभापति ने राज्यसभा के आठ सांसदों को एक सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया है। सभापति ने डेरेक ओ ब्रायन, संजय सिंह, राजू सातव, केके रागेश, रिपुन बोरा, डोला सेन, सैयद नजीर हुसैन और एलमारन करीम को सस्पेंड किया है। सभापति वैंकेया नायडू ने कहा कि कल राज्यसभा के लिए बुरा दिन था, जब कुछ सदस्य सदन के वेल में आए। इस दौरान डिप्टी चेयरमैन को शारीरिक रूप से खतरा था। यह दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय है। मैं सांसदों को सुझाव देता हूं, कृपया कुछ आत्मनिरीक्षण करें। विपक्ष के 12 दलों ने रविवार को राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव का नोटिस दिया। कार्यवाही के स्थगन के विपक्षी दलों के अनुरोध की अनदेखी के बाद जिस तरह से सदन में दो कृषि विधेयकों को पारित किया गया, उसे लेकर ही यह नोटिस दिया गया है। इस सांसदों ने जिस तरह साड़ी मर्यादाओं को तोड़ने की कोशिश की उसे देखते हुए उन्हें सस्पेंड करने का फैसला लिया गया.