असम में हिमंत बिस्वा सरमा ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ

 10 May 2021  208

संवाददाता/in24 न्यूज़.
भारतीय जनता पार्टी के लिए आज का दिन ऐतिहासिक है। हिमंत बिस्वा सरमा ने सोमवार काे गुवाहाटी में एक सादे समारोह में असम के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। राज्यपाल जगदीश मुखी शंकरदेव कलाक्षेत्र में आयोजित एक समारोह में सरमा को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। काेरोना वायरस के कारण लागू दिशानिर्देशों का पालन करते हुए इसमें सीमित संख्या में ही अतिथि मौजूद रहे। सरमा के साथ 14 कैबिनेट मंत्रियों ने भी शपथ ग्रहण की। शपथग्रहण समारोह में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ ही कई अन्य नेता भी मौजूद थे। नए मंत्रियों की सूची में असम बीजेपी चीफ रंजीत कुमार दास, चंद्र मोहन पटवारी, परिमल शुक्लाबैद्य, रोनोज पेगु, संजय किशन, जोगन नोहन, अजंता नेयोग, अशोक सिंघल, पिजुष हजारिका, बिमल बोरा शामिल है। ये सभी बीजेपी विधायक हैं। इनके अलावा गठबंधन की पार्टी असम गण परिषद के अतुल बोरा और केशव महानता को भी मंत्रिमंडल में जगह दी गई है और यूनाइटेड पीपल्स पार्टी लिबरल के उरखाव ग्वारा ब्रह्मा को भी शामिल किया गया है। अतुल बोरा, परिमल शुक्लबैद्य, चंद्रमोहन पटवारी, केशव महानता, संजय किशन, जोगन मोहन और पिजूष हजारिका जहां सर्बानंद सोनोवाल के कैबिनेट में भी शामिल थे तो वहीं इनके अलावा बाकी सभी चेहरे नए हैं। अगले कुछ दिनों में सभी को मंत्रालय बांट दिए जाएंगे। इसके अलावा यह भी खबर है कि जल्द ही सरमा अपने कैबिनेट का विस्तार करेंगे और चार अन्य मंत्रियों को शामिल करेंगे। सरमा के शपथ लेने पर पीएम मोदी ने ट्वीट कर बधाई भी दी। पीएम ने लिखा कि हिमंत बिस्वा जी और आज शपथ लेने वाले अन्य मंत्रियों को बधाई। मुझे विश्वास है कि यह टीम असम की विकास यात्रा को गति देगी और लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करेगी। इसके साथ ही पीएम ने पूर्व सीएम सर्बानंद सोनोवाल के लिए भी ट्वीट किया। पीएम ने लिखा कि मेरे अमूल्य सहयोगी सर्बानंद सोनवाल जी पिछले पांच वर्षों में एक जन-समर्थक और विकास-समर्थक प्रशासन के मुखिया थे। असम की प्रगति और राज्य में पार्टी को मजबूत बनाने के लिए उनका योगदान बहुत बड़ा है। बता दें कि भाजपा ने अपने गठबंधन सहयोगी यूपीपीएल और असम गण परिषद के साथ मिलकर 72 सीटों पर जीत हासिल की है जो 126 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए आवश्यक 64 के आंकड़े से आठ अधिक है। असं में सरकार गठन के बाद बीजेपी में जोश का माहौल है।