जहरीली शराब ने ली पंजाब में 87 लोगों की जान

 02 Aug 2020  19

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
पंजाब नशाखोरी के लिए भी काफी बदनाम रहा है. अब एक बार फिर जहरीली शराब ने भारी संख्या में लोगों की जान ली है. गुरुवार रात से शुरू हुआ मौतों का सिलसिला रविवार सुबह तक जारी रहा। राज्य में मृतकों की संख्या 87 तक पहुंच गई है। दर्जनों घरों के चिराग बुझने के बावजूद पंजाब सरकार कागजी खानापूर्ति में जुटी हुई है। रविवार की सुबह तरनतारन जिले में एक और व्यक्ति की मौत हो गई। अकेले तरनतारन जिले में मृतकों की संख्या 64 तक पहुंच चुकी है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पुलिस अधिकारियों से लगातार अपडेट ले रहे हैं। शनिवार को रातभर पुलिस ने पंजाब में छापे मारकर 25 लोगों को गिरफ्तार किया। मुख्यमंत्री के गृह जिला पटियाला में पुलिस ने चार व्यक्तियों को हिरासत में लिया है। सीमावर्ती जिला फाजिल्का में छापा मारकर एक पशु बाड़े से भारी मात्रा में कच्ची शराब बरामद की है। इस बीच पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि रविवार सुबह तक 98 स्थानों पर छापे मारकर दो दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और भारी मात्रा में शराब, लाहन व शराब बनाने का सामान बरामद किया गया। सभी जिलों की पुलिस को निर्देश दिए गए हैं की वह नशे के सौदागरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करे। इस मामले में अब तक पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों के प्रत्येक परिवारों को दो-दो लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। जिस तरह जहरीली शराब का ये गोरखधन्दा सामने आय है इससे यह समझना मुश्किल नहीं कि शराब माफिया किस कदर अपनी जड़ों को फैला चुके हैं.