मांगें नहीं मानी गईं तो अपना पद्म भूषण वापस कर दूंगा : अन्ना

 04 Feb 2019  21
संवाददाता/in24 न्यूज़.  
अन्ना हजारे का जादू इसबार रालेगण सिद्धि में क्यों कमजोर पड़ा, इसे लेकर हर तरफ चर्चा तो हो रही है मगर जिस तरह से सरकार की तरफ से उन्हें प्रतिसाद मिलना चाहिए था, वैसा इसबार नज़र नहीं आया. यही कारन है कि सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने रविवार को आगाह किया कि अगर नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने वायदे पूरे नहीं किए तो वह अपना पद्म भूषण लौटा देंगे। इससे पहले दिन में भाजपा की सहयोगी शिवसेना हजारे के समर्थन में आगे आई और उनसे आग्रह किया कि वह समाजवादी कार्यकर्ता जयप्रकाश नारायण की तरह भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व करें।
अन्ना ने केंद्र में लोकपाल और महाराष्ट्र में लोकायुक्त की तत्काल नियुक्ति और किसानों के मुद्दों के समाधान के लिए बुधवार को अहमदनगर जिले में स्थित अपने पैतृक गांव रालेगण सिद्धि में अनशन शुरू किया था। हजारे ने कहा कि अगर यह सरकार अगले कुछ दिनों में देश से किए अपने वायदों को पूरा नहीं करती है तो, मैं अपना पद्म भूषण लौटा दूंगा। अन्ना के अनुसार मोदी सरकार ने लोगों के विश्वास को तोड़ा है।