महिला ने भाव नहीं दिया तो उसकी हत्या कर दी

 09 Dec 2019  223

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
देश भर में बलात्कारियों के खिलाफ लाख प्रदर्शन हो, क़ानून अपने तरीके से आरोपियों को सजा दे, बावजूद आरोपियों में खौफ पैदा नहीं हो रहा. तेलंगाना में जिस तरह डॉ प्रियंका के चार आरोपियों को मार गिराया गया तो लगा लोग डरेंगे. मगर ऐसा होता तो  छत्तीसगढ़ के कोरबा में उन्नाव जैसी घटना को अंजाम दिया गया है. जमानत पर बाहर आए व्यक्ति द्वारा हंसिये से 35 वर्ष की महिला पर हमला कर दिया. इस हमले में महिला ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया है.आरोपी व्यक्ति महिला का पीछा करता था और उसने उसका अश्लील वीडियो भी बनाया था, जिसको लेकर उसे पहले गिरफ्तार भी किया गया था. आरोपी इंद्रपाल तोंडे (40) जमानत पर था. उसी गत 6 दिसम्बर को उसने कोरबा में बुधवारी बजरंग चौक के पास काम पर जा रही महिला का गला रेत दिया था.  कोरबा पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह मीणा ने बताया कि महिला को शनिवार शाम को कोरबा स्थित अस्पताल से बिलासपुर स्थित छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान में स्थानांतरित किया गया था, लेकिन शनिवार और रविवार की दरमियानी रात को उसकी मौत हो गई. उन्होंने कहा कि हमले के बाद तोंडे को गिरफ्तार करके न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था. महिला मुंगेली जिले की निवासी थी और पति से अलग होने के बाद कोरबा के बुधवारी क्षेत्र में रहकर काम करती थी.  पुलिस के अनुसार, आरोपी इंद्रपाल तोंडे ने महिला से प्रेम का इजहार किया था, लेकिन महिला ने उसका प्रस्ताव ठुकरा दिया था. महिला के घर बदलने के बावजूद तोंडे उसका पीछा कर रहा था और परेशान कर रहा था. इस साल अक्टूबर में आरोपी ने कथित तौर पर महिला का गुप्त तरीके से नहाते हुए वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया था. महिला ने एक शिकायत दर्ज कराई थी और तोंडे को गिरफ्तार कर लिया गया था, लेकिन कुछ दिन पहले उसे जमानत मिल गई थी. शुक्रवार (6 दिसंबर) को उसने महिला पर हंसिये से हमला किया. पास से गुजरने वाले कुछ लोगों ने महिला को बचाने की कोशिश की और तोंडे को पुलिस के हवाले करने से पहले पीटा था.