राहुल गांधी के ट्रैक्टर से निकले कई विवाद

 27 Jul 2021  244

संवाददाता/in24 न्यूज़।  
राहुल गांधी का ट्रैक्टर चलाना अब विवादों में घिरता जा रहा है. देश में लागू हुए तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी एक दिन पहले खुद ट्रैक्टर चलाकर संसद पहुंचे थे. दिल्ली पुलिस ने बताया है कि इस ट्रैक्टर को हरियाणा से ट्रक में छिपाकर दिल्ली लाया गया था. जब राहुल गांधी ट्रैक्टर चलाकर संसद जा रहे थे तब उनके साथ हरियाणा और पंजाब कांग्रेस के कई नेता थे. सोमवार को राहुल गांधी जब संसद जाने के लिए खुद ट्रैक्टर चलाकर निकले थे तो हर कोई चौंक गया था. पुलिस ने अब बताया कि यह ट्रैक्टर हरियाणा से छिपते-छिपाते लाया गया था. राहुल गांधी जिस ट्रैक्टर से संसद पहुंचे थे, वह ट्रैक्टर रविवार की रात को हरियाणा से चला था. इसके बाद रास्ते में एक बड़े ट्रक में छुपाकर दिल्ली लाया गया था, जिससे कि पुलिस की नज़र इस पर न पड़े. यह ट्रैक्टर रात में तीन बजे लुटियन जोन पहुंचा था. पहले इसे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के घर पर उतारने का कांग्रेस का प्लान था. हालांकि वहां पास में ही खुफिया विभाग के दो दफ्तर तथा सीसीटीवी कैमरे होने की वजह से इसे कांग्रेस के दिग्गज नेता केटीएस तुलसी के घर उतारा गया था. वहीं ट्रैक्टर में रात में ही हरियाणा के एक बड़े नेता की देखरेख में कृषि आंदोलन के पोस्टर लगाए गए थे. जब राहुल गांधी तीन नए कृषि कानूनों के विरोध में ट्रैक्टर चलाकर संसद भवन परिसर के गेट तक पहुंचे थे तो उस दौरान उनके साथ राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र हुड्डा, प्रताप सिंह बाजवा तथा पार्टी के अन्य सांसद बैठे थे. ट्रैक्टर के आगे एक बैनर लगाया गया था. इस बैनर पर लिखा था कि किसान विरोधी तीनों काले कृषि कानून वापस लो- वापस लो. बता दें कि संसद पहुंचकर राहुल गांधी ने कहा था कि वह किसानों का संदेश लेकर आए हैं. उन्होंने कहा था कि किसानों की आवाज दबाई जा रही है. राहुल गांधी ने कहा था कि मोदी सरकार को कृषि कानून वापस लेने ही होंगे. ये कानून 2-3 बड़े उद्योगपतियों के लिए हैं. किसानों के फायदे के लिए नहीं. ये काले कानून हैं. बता दें कि अब इस मुद्दे पर राजनीतिक गतिविधियां और भी बढ़ सकती हैं.