महाराष्ट्र में है पत्नी पीड़ित आश्रम, लगती है पीड़ित पुरुषों की भीड़

 30 Nov 2021  261

संवाददाता/ in24 न्यूज़

 

आज तक आपने वृद्ध आश्रम, अनाथ आश्रम, विधवा आश्रम या बाल आश्रम के नाम सुने होंगे लेकिन क्या आपने पत्नी द्वारा सताए गए पीड़ित पतियों के लिए किसी आश्रम का नाम सुना है. यदि नहीं तो इस खबर से आपको जानकारी मिल जाएगी कि पत्नियों द्वारा पीड़ित पतियों के लिए भी अब आश्रम खुल चुका है जिसे पत्नी पीड़ित आश्रम के नाम से जाना जा रहा है.

 

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में स्थित इस पत्नी पीड़ित आश्रम हर महीने तकरीबन 150 से अधिक पत्नी पीड़ित पुरुष अपनी शिकायत लेकर आते है. आपको बता दें कि देश में अपनी तरह का यह पहला पत्नी पीड़ित आश्रम है. और दिन प्रति दिन इस आश्रम मे पत्नी द्वारा सताए गए पुरुषों की भीड़ बढ़ती ही जा रही है. दिलचस्प बात ये है कि इस आश्रम में महिला दिवस और वट सावित्री पूर्णिमा के दिन पुरुषों की भीड़ काफी ज्यादा बढ़ जाती है. ताकि वे महिला दिवस और वट सावित्री पूर्णिमा का विरोध कर सके. इस दिन आश्रम में बड़ी दूर-दूर से लोग आते हैं और इस कार्यक्रम में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं. इस आश्रम में आने वाले पत्नी पीड़ितों की सरकार से यह मांग है महिला कानून में बदलाव होना चाहिए, ताकि पति के खिलाफ पत्नियों द्वारा जो झूठी शिकायतें पुलिस में दर्ज कराई जाती हैं, उसमें रोक लग सके. और निर्दोष पतियों को न्याय मिल सके, ताकि पति भी भयमुक्त जीवन व्यतीत कर सकें।