महापरिनिर्वाण दिवस, किये गए हैं सुरक्षा के सभी उपाय : महापौर

 02 Dec 2021  173

संवाददाता/ in24 न्यूज़

6 दिसंबर को डॉ.बाबासाहेब आंबेडकर की पुण्यतिथि है, और इस दिन को पूरे देश में महापरिनिर्वाण दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष 65 वां महापरिनिर्वाण दिवस है। 6 दिसंबर को डॉ बाबासाहेब आंबेडकर के स्मारक का दर्शन करने के लिए मुंबई के दादर में स्थित चैत्य भूमि पर देश के कोने कोने से बाबासाहेब आंबेडकर के अनुयायी आते हैं. लेकिन इस बार कोरोना के मद्देनजर राज्य सरकार की तरफ से दिशा-निर्देश जारी किए हैं, साथ ही कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन के संभावित खतरे को देखते हुए बीएमसी की तरफ से कई सुरक्षा के इंतजाम किये गए हैं.

 

राज्य सरकार ने सभाओं, सम्मेलनों और रैलियों पर भी रोक लगा दी है। प्रशासन ने भक्तों से अपील की है कि इस साल महापरिनिर्वाण दिवस बेहद सादगी से मनाया जाए, जिसके तहत किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम पर प्रशासन ने रोक लगा दी है।

इसके अलावा चैत्यभूमि और शिवाजी पार्क क्षेत्र में कोई भी स्टॉल नहीं लगाने की घोषणा की गई है. इन सबके अलावा दर्शन के लिए बाहर से आने वाले बाबा साहब के अनुयायियों के लिए भी व्यवस्था की गयी है.

इस बारे अधिक जानकारी देते हुए मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि, बाबासाहेब के अनुयायियों को किसी बात की तकलीफ न हो, इसके लिए पानी की व्यवस्था, छांव के लिए शेड की व्यवस्था इसके अलावा टॉयलेट की भी व्यवस्था बीएमसी प्रशासन की ओर से गयी है.

उन्होंने कहा कि समयानुसार मुख्यमंत्री, उपमुख्य मंत्री, महापौर के दर्शन के बाद सभी अनुयायियों के दर्शन की सुविधा दी जाएगी। कोरोना को लेकर उन्होंने कहा कि, इसके लिए विशेष ध्यान दिया गया है. ऑनलाइन दर्शन कभी भी किया जा सकता है, लेकिन जो अनुयायी दर्शन करने के लिए बाहर से आते हैं, उन्हें प्राथमिकता दी जानी चाहिए ताकि उन्हें कोई परेशानी न हो और उनका समय भी बचे.