विस्फोट से गिराई गई केरल में ईमारत

 11 Jan 2020  465

संवाददाता/in24 न्यूज़.
एक ज़माना था जब किसी इमारत को गिराने में भी बहुत सारे मज़दूर लगते थे और समय भी बर्बाद होता था. मगर बदलते वक़्त ने तकनीकी रूप से इतने संसाधन दे दिए कि उसके इस्तेमाल से काम तत्काल हो जाता है. केरल में एक 18 मंजिला इमारत देखते-देखते धूल में मिल गई. दरअसल, केरल राज्य के कोच्चि में समुद्र किनारे बने चार अवैध बिल्डिंगों को सुप्रीम कोर्ट से गिराने का आदेश आया था. इसके बाद इन बिल्डिगों को विस्फोटक के जरिए गिरा दिया गया. इमारत के ढेर होते ही चारों ओर धूल का गुबार बन गया. बिल्डिंग को गिराने से पहले शनिवार सुबह सारे इलाकों को खाली करा दिया गया था. एर्नाकुलम जिला कलेक्टर रिहायशी परिसरों में सुबह आठ बजे से धारा 144 लगा दी थी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मरदू में अल्फा सेरेने और होली फेथ बिल्डिंग्स को आज तथा जैन और गोल्डन फ्लीट बिल्डिंग को रविवार को ढहाया जाएगा. इन इमारतों को सुप्रीम कोर्ट ने ढहाने का आदेश दिया है. बिल्डिंग्स में विस्फोटक लगाने का काम शुक्रवार को किया गया था. इन चार अपार्टमेंट्स में 350 से ज्यादा फ्लैट हैं. जिसमें 240 से ज्यादा परिवार रहते थे. इन बिल्डिंग्स को गिराने के लिए 800 किलो से ज्यादा का विस्फोटक इस्तेमाल में लाया गया है. पुलिस ने बताया कि मलबे की चपेट में किसी के न आने के कारण धारा 144 लागू की गई है. लोगों से कहा गया है कि कार्यवाही के दौरान अपने घरों की लाइट बंद रखें.