गैस सिलेंडर के बढ़ते भाव के साथ रसोई तक पहुंची महंगाई

 01 Jul 2020  57
संवाददाता/in24 न्यूज़. 

महंगाई अब आम आदमी के रसोई घर तक पहुंच गई है. पहले जहां लोग पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ते भाव से परेशान थे, वहीं अब गैर-सब्सिडी वाली एलपीजी सिलेंडर की कीमत में भी बढ़ोत्तरी हो गई है. बुधवार एक जुलाई से महानगरों में एलपीजी की कीमतें प्रति सिलेंडर 4.50 रुपये तक बढ़ गई हैं. बीते तीन महीनों में एलपीजी की कीमतों में जोरदार कटौती हुई है. तीन महीने लगातार कटौती के बाद यह लगातार दूसरी बढ़ोतरी है. एक जुलाई से गैर-रियायती एलपीजी की कीमत में दिल्ली में एक रुपए प्रति सिलेंडर (14.2 किलोग्राम), कोलकाता में 4.50 रुपए प्रति सिलेंडर, मुंबई में 3.50 रुपए प्रति सिलेंडर और चेन्नई में 4 रुपए प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी की गई है. एक जुलाई से दिल्ली और मुंबई में इंडियन ऑयल के उपभोक्ताओं को गैर-सब्सिडी वाले रसोई गैस के लिए क्रमशः 594 रुपए और 594 रुपए चुकाने होंगे. जून में यह 593 रुपए और 590.50 रुपए प्रति सिलेंडर था. इंडियन ऑयल का बिना सब्सिडी वाला 14.2 किलो का सिलेंडर, इंडेन, आज से दिल्ली और मुंबई में 594 का होगा. पिछले महीने दिल्ली में एलपीजी की रिटेल प्राइस में 11.50 प्रति सिलेंडर की बढ़ोतरी की गई थी. फरवरी में एलपीजी सिलेंडर की दरें 858.50 (दिल्ली) तक बढ़ गई थी लेकिन मार्च में कोरोना वायरस महामारी के बाद मांग में कमी के कारण यह 805.50 हो गई. मई में एलपीजी की कीमत 744 से घटाकर 581.50 प्रति सिलेंडर कर दी गई. बहरहाल लॉकडाउन में छोट मिलने के साथ ही महंगाई भी दबे पांव रसोई तक पहुंच गई.