महंगे गैस सिलेंडर ने बिगाड़ा रसोई का ज़ायका

 01 Mar 2021  2916

संवाददाता/in24 न्यूज़.
कोरोना और लॉकडाउन से परेशान आम आदमी पर गैस सिलेंडर की महंगाई ने एकबार फिर बोझ डालने का काम किया है जिससे रसोई का ज़ायका बिगड़ गया है.  बता दें कि एक बार फिर रसोई गैस के दाम 25 रुपये प्रति सिलेंडर बढ़ा दिए गए हैं. देश की राजधानी दिल्ली में सब्सिडी वाले घरेलू गैंस सिलेंडर के दाम में 25 रुपये की बढ़ोतरी के बाद 14.2 किलोग्राम वाला सिलेंडर अब 819 रुपये में मिलेगा. इससे पहले दिल्ली में घरेलू गैस सिलेंडर 794 रुपये में मिल रहा था. 25 फरवरी को भी घरेलू एलपीजी गैस के दाम में 25 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी. सिर्फ फरवरी में ही घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम तीन बार बढ़ाए गए थे. फरवरी में तीन बार में एलपीजी सिलेंडर के दाम 100 रुपये महंगे किए गए थे. इसके साथ आज की बढ़ोतरी को मिलाकर मात्र 26 दिनों में एलपीजी सिलेंडर 125 रुपये महंगे किए जा चुके हैं. सबसे पहले 1 दिसंबर को सिलेंडर के दामों में बढ़ोतरी का सिलसिला शुरू हुआ था. इसके बाद से अब तक एलपीजी के दाम 225 रुपये महंगे किए जा चुके हैं. 1 दिसंबर को दिल्ली में एलपीजी गैस सिलेंडर की कीमत 594 रुपये थी. जो 50 रुपये बढ़कर 644 रुपये की गई थी. 1 जनवरी को कीमत 50 रुपये और बढ़ा दी गई थी. इसके बाद दिल्ली में इसकी कीमत 644 रुपये से बढ़कर 694 रुपये हो गई थी. फिर 4 फरवरी को कीमत 25 रुपये बढ़ाई गई थी और यह  719 रुपये में मिलने लगा था. फिर 15 फरवरी को 50 रुपये कीमत बढ़ाकर 719 रुपये से 769 रुपये की गई थी. इसके बाद 25 फरवरी को 25 रुपये कीमत बढ़ाकर इसके दाम 794 रुपये कर दिए गए थे. अब 1 मार्च को 25 रुपये के इजाफे के बाद एलपीजी गैस की वर्तमान कीमत 819 रुपये हो गई है. गौरतलब है कि सरकार की तरफ से प्रत्येक घर को 14.2 किलोग्राम वाले 12 सिलेंडरों पर सब्सिडी दी जाती है. नई बढ़ोतरी के बाद कोलकाता में सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर की कीमत 845.50 रुपये हो गई है. बढ़ती महंगाई को लेकर विपक्ष ने सरकार पर जमकर निशाना साधना शुरू कर दिया है.