एक अप्रैल से महंगी होगी हवाई यात्रा

 30 Mar 2021  1015

संवाददाता/in24 न्यूज़.
हवाई टिकट में एयरपोर्ट सिक्योरिटी द्वारा फीस में बढ़ोतरी के बाद अब हवाई यात्रा महंगी होगी। एक अप्रैल से घरेलू यात्रियों को 40 रुपए ज्यादा चुकाने होंगे। बता दें कि नागर विमानन महानिदेशालय ने हवाई टिकट में एयरपोर्ट सिक्योरिटी फीस में बढ़ोतरी कर दी है। ये एयरपोर्ट सिक्योरिटी फीस अंतर्राष्ट्रीय यात्रियों के लिए 114.38 रुपए होगी। गौरतलब है कि विमानन कंपनियां टिकट की बुकिंग के वक्त एएसएफ वसूल कर सरकार को जमा कराती हैं। इस राशि का इस्तेमाल पूरे देश के हवाईअड्डों की सुरक्षा व्यवस्था पर किया जाता है। अब एयरपोर्ट सिक्योरिटी फीस के लिए घरेलू यात्रियों से 200 रुपए लिए जाएंगे। वहीं, अंतर्राष्टीय यात्रियों को 12 डॉलर देने होंगे। ये नई दरें एक अप्रैल से लागू होंगी। एयरपोर्ट सिक्योरिटी फीस वैसे हर यात्री से ली जाती है लेकिन कुछ यात्रियों को इससे छूट दी जाती है। इनमें दो साल से कम उम्र के बच्चे, डिप्लोमेटिक पासपोर्ट रखने वाले अधिकारी, ऑन ड्यूटी एयरलाइन क्रू और एक ही टिकट के जरिए पहली फ्लाइट के 24 घंटों के अंदर दूसरी कनेक्टिंग फ्लाइट लेने वाले ट्रांजिट यात्रियों को इसमें छूट मिलती है। ये बात सच है कि महामारी के बाद लोग सरकार से हवाई किराए में राहत की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन उन्हें झटके पर झटका मिल रहा है। सिक्योरिटी फीस में बढ़ोतरी को लेकर डीजीसीए की तरफ से पीछले दिनों नोटिफिकेशन जारी किया गया था। हालांकि कुछ ट्रैवलर्स को इससे छूट दी गई है। अगर बच्चे की उम्र दो साल से कम है, किसी के पास डिप्लोमैटिक पासपोर्ट है, एयरलाइन के क्रू मेंबर जो ड्यूटी पर हैं और कनेक्टिंग फ्लाइट के पैसेंजर पर यह नियम लागू नहीं होगा। नया रेट एक अप्रैल 2021 से कटने वाली टिकट पर लागू होगा। इससे पहले पहले फरवरी में सरकार ने प्राइस बैंड को 10 से 30 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया था। उस समय मिनिमम किराए में 10 फीसदी और मैक्सिमम किराए में 30 फीसदी का इजाफा किया गया था। एविएशन मिनिस्ट्री ने 25 मई 2020 में डमेस्टिक एयर सर्विस की इजाजत दी थी। उसी समय पूरे रूट को सात कैटिगरीज में बांट दिया गया था। वर्तमान में सभी एयरलाइन को 20 फीसदी सीटें औसत किराया से कम पर बेचनी होती हैं। बता दें कि कोरोना काल में लोग महंगाई से पहले ही परेशान हैं।