एकनाथ शिंदे के मुख्यमंत्री बनते ही झूम उठे शिवसेना विधायक

 30 Jun 2022  266

संजय मिश्रा/in24न्यूज़/गोवा

 

महाराष्ट्र में पिछले 10 दिनों से जारी सियासी उठापटक पर अब पूरी तरह से विराम लग गया. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहे उद्धव ठाकरे ने जैसे ही 29 जून की रात राजभवन पहुंचकर राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा उसके बाद से ही अटकलों का बाजार इस बात को लेकर गर्म हो गया कि अब महाराष्ट्र में नई सरकार का गठन होगा, जिसमें देवेंद्र फडणवीस को एक बार फिर से भारतीय जनता पार्टी महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाएगी. लेकिन 30 जून की दोपहर जब महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के लिए एकनाथ शिंदे के नाम का ऐलान किया तो चारों तरफ खलबली मच गई. खासकर शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी की महा विकास आघाडी को इतना बड़ा झटका लगा, जिसकी उन्होंने इससे पहले कभी कल्पना नहीं की होगी. जिस महा विकास आघाडी के संरक्षक देश की राजनीति के महान चाणक्य कहे जाने वाले शरद पवार हो, उस महा विकास आघाड़ी सरकार को औंधे मुंह गिरा देना यह कोई छोटी बात नहीं है. लेकिन देवेंद्र फडणवीस और भारतीय जनता पार्टी के तो बड़े दिग्गज नेताओं ने महाराष्ट्र की राजनीति का पासा ही पलट दिया. भारतीय जनता पार्टी ने न सिर्फ उद्धव ठाकरे का वजूद खत्म कर दिया बल्कि साल 2019 में हुए विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर हुई शिवसेना से तकरार का भी माकूल जवाब दे दिया. खासकर देवेंद्र फडणवीस ने प्रत्यक्ष रूप से शिवसेना पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे को यह भी बता दिया कि उन्हें मुख्यमंत्री की कुर्सी का मोह नहीं है और न कभी था. एकनाथ शिंदे के मुख्यमंत्री बनाए जाने की देवेंद्र फडणवीस की घोषणा के बाद गोवा में पार्टी के बागी विधायक झूम उठे.  सभी विधायकों ने ऐसा डांस किया कि उनके समर्थकों में भी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. विधायकों ने जश्न मनाने के लिए शिंदे के कैंपेन सॉन्ग पर डांस करना शुरू कर दिया. कई विधायक तो टेबल पर चढ़ कर नाचने लगे.  शिंदे गुट के सभी बागी विधायक बुधवार को गुवाहाटी से गोवा के होटल ताज कन्वेंशन पहुंचे थे. मुंबई में जहां एक तरफ शिवसेना भवन और मातोश्री में राजनीतिक मातम पसरा हुआ था वहीं दूसरी तरफ ठाणे स्थित मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के आवास के बाहर शिवसैनिकों ने जमकर डांस किया और पटाखे फोड़कर, मिठाईयां खिलाकर जश्न मनाया.