मुंबई को महाराष्ट्र से अलग करना चाहती है केंद्र सरकार - नाना पटोले

 12 Sep 2023  623
संवाददाता/in24 न्यूज़।
केंद्र की मोदी सरकार द्वारा संसद के विशेष सत्र बुलाए जाने को लेकर विपक्ष आक्रामक मुड़ में है. वहीं महाराष्ट्र कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष नाना पटोले ने विशेष सत्र को लेकर बड़ा दावा किया है। नाना पटोले ने कहा कि यह सत्र इसलिए बुलाया गया है ताकि मुंबई को महाराष्ट्र से अलग करके केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया जाए. नाना पटोले ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड, नोटबंदी और मणिपुर पर क्यों नहीं विशेष सत्र बुलाया? उन्होंने कहा कि संसद का सत्र सरकार के मूड के हिसाब से चल रहा है नाना पटोले ने केंद्र की मोदी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि इस सत्र में मुंबई को केंद्र शासित प्रदेश घोषित करके उसे महाराष्ट्र से बाहर अलग कर दिया जाएगा।
          गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने 18 से 22 सितंबर तक संसद का विशेष सत्र बुलाया है इसको लेकर अनुमानों और कयासों का दौर जारी है. इसी बीच महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष नाना पटोले ने यह बड़ा आरोप लगाया है नाना पटोले ने अपने बयान में कहा कि मुंबई एक अंतर्राष्ट्रीय शहर है और देश की आर्थिक राजधानी भी है. साथ ही पटोले ने कहा मुंबई के जो पावर हाउस रहे हैं जैसे एयर इंडिया, इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विस सेंटर और डायमंड मार्केट को शहर से बाहर ले जाया जा रहा है. नाना पटोले यही नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज को गुजरात ले जाया जा रहा है. पटोले ने कहा कि सरकार की इस मनसा को पूरा करने में महाविकास आघाड़ी सरकार बाधा बन रही थी. इसीलिए केंद्र द्वारा उसे सरकार को गिरा दिया गया. बता दें कि केंद्र सरकार की तरफ से सत्र को लेकर जानकारी नहीं दी गई है कि संसद का विशेष सत्र आखिर किस मकसद से बुलाया गया है.