मम्मी शराब पीती रही और मासूम बच्चा दम तोड़ता रहा

 12 Jun 2021  221

संवाददाता/in24 न्यूज़.
अपने बच्चे की रक्षा के लिए एक मां किसी भी हद से गुज़र सकती है, यह सभी जानते हैं।  मगाए एक शराब की शौकीन मम्मी पीने के चक्कर में इस कदर धुत हुई कि उसे अपने 11 माह के बच्चे तक की फ़िक्र नहीं  हुई और उसने दम तोड़ दिया। इस मामले में शराब पार्टी के कारण अपने ही बच्चे की मौत की वजह बनी एक मां को कोर्ट ने दोषी ठहराया है। दोषी महिला का नाम ओल्गा बाजरोवा है और वह ज्लाटाउस्ट की रहने वाली है। पति से अलग रहने वाली ओल्गा ने दोस्तों के साथ दारू पार्टी करने के लिए अपने मासूम बच्चों को ही मौत के मुंह में धकेल दिया। दरअसल ओल्गा ने दोस्तों के साथ शराब पार्टी करनी थी इसलिए उसने 11 महीने के बेटे सेवली और 3 साल की बेटी को घर में बंद कर दिया। चार दिन तक दोनों बच्चे घर में कैद रहे और भूखे प्यास से उनकी हालत खराब हो गई। निर्दयी मां ने 4 दिन तक दोनों की सुध नहीं ली। जब चार दिन बाद बच्चों की दादी घर लौटी तो सेवली की मौत हो चुकी थी। तीन साल की बेटी भी बेहद कमजोर और भयभीत थी। दादी की शिकायत पर पुलिस ने ओल्गा को गिरफ्तार कर लिया, जबकि बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस मामले में सुनवाई के दौरान अदालत ने ओल्गा बजरोवा को अत्यधिक क्रूरता के साथ की गई नाबालिग की हत्या का दोषी पाया और अपनी बेटी को अत्यधिक खतरे में छोडक़र मां के कर्तव्यों को पूरा करने में विफलता का दोषी पाया। ममता की मूरत कही जाने वाली मां जब ऐसा कर सकती है तो मासूम बच्चों के भविष्य को लेकर चिंता करना लाजिमी है।