सऊदी अरब सरकार ने हज यात्रियों के आब-ए-ज़मज़म ले जाने पर लगाई रोक

 19 May 2022  333

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
हज यात्रियों के लगेज में आब-ए-जमजम लाने पर सऊदी अरब सरकार ने रोक लगा दी है। इस रोक की अधिसूचना बुधवार को जारी कर दी गई। इस्लाम धर्म में आब-ए-ज़मज़म का चश्मा यानी कुआं अल्लाह की कुदरत माना जाता है। इस्लाम धर्म में आब-ए-ज़मज़म का खास महत्व है। आब-ए-ज़मज़म काबा खाना से करीब 20 मीटर की दूरी पर मक्का में मस्जिद-अल-हरम में मौजूद है। इस्लाम में ज़मज़म का चश्मा यानी कुआं हर मुसलमान के लिए अल्लाह का तोहफा माना जाता है। एक मान्यता के मुताबिक ज़मज़म के इस कुएं को हजारों साल से ज्यादा का समय बीत चुका है, लेकिन इसका पानी न कभी सूखता है, ना कभी कम होता है और न खराब होता है। खास बात यह है कि अधिसूचना में यह नहीं बताया गया कि इस पवित्र जल को लाने पर रोक क्यों लगाई गई है। एयरलाइन कंपनियों से कहा गया है कि वो आब-ए-जमजम पर बैन के फैसले का सख्ती से पालन कराएं। ऐसा नहीं होने पर उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। पहले हर हज यात्री को दस लीटर आब-ए-जमजम लाने की इजाजत थी। बाद में सऊदी सरकार ने इसे घटाकर पांच लीटर कर दिया। अब इसके लाने पर ही रोक लगा दी गई है। इस फैसले से हज यात्रियों को बड़ा झटका लगा है।