कंगना के खिलाफ सुनवाई तेज़ करने की याचिका दायर

 01 Dec 2021  187

संवाददाता/in24 न्यूज़।
अपने बयानों से हमेशा विवादों में रहनेवाली बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangna Ranaut) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। इसके पीछे की वजह है इनके खिलाफ एक जनहित याचिका। बता दें कि कंगना रनौत के सिखों से संबंधित सोशल मीडिया पोस्ट को धार्मिक भावनाओं को गंभीर ठेस पहुंचाने तथा देश की एकता तोड़ने वाला करार देते हुए उनके खिलाफ देशभर में दर्ज मुकदमों को मुंबई में स्थानांतरित कर उन मामलों की सुनवाई तेज करने का आदेश देने संबंधी एक जनहित याचिका उच्चतम न्यायालय में दायर की गई है। वकील चरणजीत सिंह चंद्रपाल ने एक याचिका में आरोप लगाया है कि कंगना का मकसद सिखों की धार्मिक भावनाओं को आहत करना तथा देश की एकता को तोड़ना है। सिखों को खालिस्तानी और आतंकवादी बताकर उनकी भावनाओं से खिलवाड़ कर अशांति फैलाने की घृणित कोशिश इंस्टाग्राम पर की गई है। एक अन्य वकील के माध्यम से दायर इस याचिका में कहा गया है कि अभिनेत्री का यह अपराध न तो नजरअंदाज करने लायक है और न ही माफ करने काबिल, लिहाजा उनके खिलाफ देश के विभिन्न राज्यों में दायर मुकदमों को मुंबई में स्थानांतरित कर तेज गति से सुनवाई का आदेश दिया जाए। उच्चतम न्यायालय के वकील चंद्रपाल ने अपनी याचिका में मांग की है कि सभी मामलों में छह माह के भीतर आरोप पत्र दाखिल करने तथा दो साल के अंदर सुनवाई पूरी करने का आदेश दिया जाए। बता दें कि हाल ही में उन्होंने आज़ादी के भीख में मिलने जैसी विवादित बात भी की थी।