भारत में जन्म लेना सौभाग्य की बात है : हरभजन सिंह

 09 Dec 2023  543

संवाददाता/in24 न्यूज़.  
भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर हरभजन सिंह का मानना है कि भारत में क्रिकेटर इतने भाग्यशाली हैं कि उन्हें देश में कई अवसर मिलते हैं। अन्य देशों के खिलाड़ियों के पास रेगुलर जॉब नहीं हैं, उनके लिए लीजेंड्स लीग क्रिकेट जैसा एक मंच है जहां उन्हें अपनी आजीविका कमाने का एक अवसर मिलता है। हरभजन सिंह (मणिपाल टाइगर्स) और सुरेश रैना (अर्बन राइजर्स हैदराबाद) शनिवार को सूरत में एलएलसी 2023 के फाइनल में एक-दूसरे से भिड़ेंगे। मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान आईएएनएस के एक सवाल का जवाब देते हुए हरभजन ने क्रिकेट खेलने और संन्यास के बाद के बारे में विस्तार से बात की। हरभजन ने कहा कि खेलना हमेशा से मेरे जीवन का एक महत्वपूर्ण पहलू रहा है। जब मैंने संन्यास लिया, तो मैंने सोचा कि मैं काफी खेल चुका हूं और अब युवाओं को मौका देने का समय आ गया है। और जब संन्यास के बाद ऐसा मौका मिलता है, तो यह बहुत शानदार है। स्पिनर ने एक प्रश्न का उत्तर देते हुए बताया कि कोई भी हमें आंकता नहीं है लेकिन हां हमसे अपेक्षाएं समान हैं। हम भाग्यशाली हैं कि हम भारत में पैदा हुए हैं, जहां हमारे पास बहुत सारे अवसर हैं, ऐसे खिलाड़ी जिनके पास नौकरी नहीं है जैसे कि न्यूजीलैंड और वेस्ट इंडीज के कुछ खिलाड़ी, लीजेंड्स लीग क्रिकेट उनके लिए बड़ी बात है। हरभजन ने मणिपाल टाइगर्स के एक खिलाड़ी के बारे में एक छोटा सा किस्सा साझा किया, जिसमें बताया गया कि कैसे कुछ खिलाड़ियों को क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद काफी संघर्ष करना पड़ता है। हरभजन ने कहा कि एक अच्छी बात जो हुई है वह यह है कि जिन खिलाड़ियों का करियर जल्दी खत्म हो जाता है और उन्हें अधिक खेलने का मौका नहीं मिलता है, उन्हें अब अपने करियर को आगे बढ़ाने का मौका मिल रहा है। हमारी टीम में न्यूजीलैंड से एक खिलाड़ी है, जिसका काम गोल्फ क्लब में घास काटना है। फाइनल शनिवार को सूरत के लालभाई कॉन्ट्रैक्टर स्टेडियम में मणिपाल टाइगर्स और अर्बन राइजर्स हैदराबाद के बीच खेला जाएगा। इनमें हरभजन सिंह, सुरेश रैना, मार्टिन गुप्टिल, एमडी कैफ, प्रवीण कुमार सहित राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के कुछ सबसे बड़े नाम शामिल होंगे। इस मैच को लेकर क्रिकेट प्रेमियों में उत्साह बना हुआ है।