स्वर्ण पदक विजेता पूर्व मुक्केबाज डिंको सिंह का निधन

 10 Jun 2021  139

संवाददाता/in24 न्यूज़ .
दुनिया में भारत का नाम रोशन करनेवाले और एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता पूर्व मुक्केबाज डिंको सिंह का गुरुवार को लीवर कैंसर से लंबी लड़ाई के बाद निधन हो गया. वह 42 वर्ष के थे और 2017 से इस बीमारी से लड़ रहे थे. उन्हें मई 2020 में कोविड -19 पॉजिटिव भी पाया गया हालांकि वह इससे बीमारी से उबर चुके थे. डिंको ने 1998 में एशियाई खेलों में भारत के लिए स्वर्ण जीता और उसी वर्ष उन्हें अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया. बैंकाक में उन्होंने भारतीय मुक्केबाजी के लिए लंबे इंतजार को समाप्त कर एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीता था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व भारतीय मुक्केबाज डिंको सिंह के निधन पर दुख जताया. प्रधानमंत्री ने लिखा कि डिंको सिंह खेल के सुपरस्टार, एक उत्कृष्ट मुक्केबाज थे जिन्होंने कई पुरस्कार अर्जित किए और मुक्केबाजी की लोकप्रियता को आगे बढ़ाने में भी योगदान दिया. उनके निधन से दुखी हूं. खेल मंत्री किरण रिरिजू ने ट्वीट किया कि मैं डिकों सिंह के निधन पर आहत हूं, वह भारत के सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाजों में से एक थे. साल 1998 में बैंकाक एशियाई खेलों में डिंको के स्वर्ण पदक ने भारत में बॉक्सिंग को काफी लोकप्रियता दिलाई. मैं शोकाकुल परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना प्रकट करता हूं. गौरतलब है कि डिंको ने अपने तेजतर्रार रिंग क्राफ्ट और तेजतर्रार व्यक्तित्व से भारतीय मुक्केबाजों की एक पीढ़ी को प्रेरित किया. मणिपुरी सुपरस्टार, जिसने 10 साल की उम्र में अपना पहला राष्ट्रीय खिताब (सब-जूनियर) जीता था. इनके निधन से देश को बहुत बड़ी क्षति हुई है.