शेन वार्न से तुलना पर हैरान हैं कुंबले

 25 Jul 2020  31

संवाददाता/in24 न्यूज़.
कभी-कभी किसी की तुलना किसी और से करने से कई सवाल खड़े हो जाते हैं, ठीक वैसे ही भारत के पूर्व स्पिनर अनिल कुंबले अपनी तुलना शेन वार्न से करने पर हैरान हैं. उन्होंने कहा कि वह कभी नहीं समझ पाए हैं कि लोग उनकी तुलना ऑस्ट्रेलिया के शेन वार्न से क्यों करते हैं। कुंबले जिम्बाब्वे के पूर्व तेज गेंदबाज पोमी बांगवा के साथ इंस्टाग्राम पर लाइव सत्र कर रहे थे। कुंबले ने बातचीत के दौरान बांगवा से कहा कि 619 विकेटों के साथ टेस्ट करियर समाप्त करना वास्तव में अद्भुत लगता है। मैंने कभी भी आंकड़ों पर ध्यान नहीं दिया या कभी इस बात पर गौर नहीं किया कि मेरा औसत क्या होना चाहिए, मैं पूरे दिन गेंदबाजी करना चाहता था और विकेट हासिल करना चाहता था. कुंबले ने आगे कहा कि मुरली और वार्न के साथ टेस्ट में तीसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज के रूप में करियर समाप्त होना बहुत खास है। हम तीनों एक ही युग में खेले, बहुत सारी तुलनाएं हुईं, मुझे नहीं पता कि लोगों ने मेरी तुलना वॉर्न से क्यों की। वार्न वास्तव में अलग थे और वह एक अलग गेंदबाज थे। मुरली और वार्न दोनों किसी भी सतह पर गेंद को स्पिन कर सकते थे इसलिए मेरे लिए वास्तव में मुश्किल हो गया था, जब लोगों ने मेरी तुलना वॉर्न और मुरली से करनी शुरू कर दी थी। मैंने उन दोनों को गेंदबाजी करते देख बहुत कुछ सीखा है। कुंबले ने वर्ष 2008 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था। उन्होंने खेल के सबसे लंबे प्रारूप में 619 विकेटों के साथ अपना करियर समाप्त किया। टेस्ट क्रिकेट में श्रीलंका के मुथैया मुरलीधरन सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में शीर्ष पर हैं। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में 800 विकेट लिए हैं,वहीं, दूसरे नम्बर पर 708 विकेटों के साथ ऑस्ट्रेलिया के शेन वार्न हैं। कुंबले के तर्क से कोई सहमत हो या न हो मगर उनकी हैरानी यही कहती है कि उन्हें किसी से अपनी तुलना बेमानी लगती है.